भारत में बढ़ते कोरोना मामलों के चलते Tanzania के रक्षा सलाहकार की हुई मौत

 

दिल्ली में तंजानिया उच्चायोग के एक अधिकारी की कोरोना से मौत हो गई. वे उच्चायोग में रक्षा सलाहकार के पद पर तैनात थे. भारत में यह संभवत: किसी विदेशी मिशन के कर्मचारी की संक्रमण से मौत का पहला मामला है.

मामले की जानकारी रखने वाले लोगों के मुताबिक कर्नल मोसेस बीटस मलूला दिल्ली में तंजानिया के उच्चायोग में तैनात थे. उनकी 27 अप्रैल को अचानक तबियत बिगड़ गई. उन्हें इलाज के लिए एक बड़े प्राइवेट अस्पताल में ले जाया गया लेकिन वहां उन्हें बेड नहीं मिल पाया.

जिसके चलते अस्पताल ने उन्हें एडमिट करने से इनकार कर दिया. इसके बाद तंजानियाई उच्चायोग ने भारतीय सेना से संपर्क करके मदद मांगी. भारतीय सेना ने तुरंत कार्रवाई करते हुए उन्हें दिल्ली छावनी में बने 92 बेस अस्पताल में भर्ती किया.

साथ ही उनके इलाज के लिए टीम भी बना दी गई. भारतीय सेना की इन कोशिशों के बावजूद 28 अप्रैल की शाम करीब 3 बजे उनका निधन हो गया. भारतीय अधिकारियों ने इस बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी है.

हालांकि तंजानियाई उच्चायोग ने विदेशी मिशन और संयुक्त राष्ट्र की एजेंसियों के साथ एक आंतरिक संवाद में मलूला की मौत का जिक्र किया है.देश में कोरोना वायरस संक्रमण की बेकाबू रफ्तार पर कुछ ब्रेक लगा है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में भारत में कोरोना के 3,68,147 नए केस सामने आए हैं. वहीं इसी दौरान कोरोना संक्रमण की वजह से 3,417  लोगों की मौत हो गई लेकिन दूतावासों में कोरोना पहुंचना चिंता की बात माना जा रहा है.

From around the web

>