भूटान के जेंटलमैन कैडेट को दी गई '​प्रेस्टीजियस​ ​मोटिवेशनल ट्रॉफी

 
भारतीय सैन्य अ​​कादमी (आईएमए)​,​ देहरादून में ​आयोजित आर्मी कैडेट कॉलेज के ​​117वें कोर्स के ग्रेजुएशन समारोह​​​ में ​​​​भूटान ​के ​जेंटलमैन कैडेट​ ​​​जूनियर अंडर ऑफिसर किनले नोरबू​ को ​​अकादमी में प्रशिक्षण के दौरान ​उनके बेहतरीन ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए​​ '​​प्रेस्टीजियस मोटिवेशनल​ ​ट्रॉफी​'​ से सम्मानित किया गया​​। ​आईएमए​ के कमांडेंट ​​लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह ने गुरुवार को स्प्रिंग टर्म परेड की सलामी ली। ​इसमें 341 भारतीय और ​​नौ मित्र देशों के 84 जेंटलमैन कैडेट शामिल हुए। ​​​​पासिंग आउट परेड​​ 12 जून को होगी।  ​​
​​फॉरेन जेंटलमेन कैडेट​ वर्ग में ​'​​प्रेस्टीजियस मोटिवेशनल​ ​ट्रॉफी​'​ के लिए ​​भूटान ​के ​​जूनियर अंडर ऑफिसर किनले नोरबू​ को इसलिए चुना गया है क्योंकि उन्होंने सफलतापूर्वक अपना प्रशिक्षण पूरा करने वाले ​कैडेट्स के बीच सर्वश्रेष्ठ शारीरिक प्रशिक्षण, सर्वश्रेष्ठ टर्न आउट और ड्रिल में सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार जीते थे।​ ​जूनियर अंडर ऑफिसर किनले नोरबू​ ​​​यहां से प्रशिक्षण पूरा करने के बाद ​​रॉयल भूटान आर्मी में कमीशन प्राप्त कर ​रहे हैं​।​ वह नौ विदेशी देशों के ​उन ​84 ​विदेशी कैडेट्स में से एक हैं जो 12 जून ​को ​आईएमए​,​ देहरादून​ ​में प्री-कमीशन प्रशिक्षण पूरा करने के बाद पासआउट होने वाले हैं।
​​फॉरेन जेंटलमेन कैडेट​ वर्ग में ​सेवा विषयों, बाहरी अभ्यास और पुस्तक समीक्षा में सर्वश्रेष्ठ चुने जाने पर अफगानिस्तान के कैडेट एहसानुल्ला सआदत को 'विशेष मान्यता पुरस्कार' दिया गया है। आईएमए ने अपने एक बयान में कहा है कि वह सटीक प्रशिक्षण मानकों के लिए दुनिया भर की सेनाओं का बहुत सम्मान करता है। अकादमी में हर चौथा कैडेट विदेशी सेना का होता है। कैडेट्स को दिए जाने वाले पुरस्कार उसके उस गौरव को दर्शाते हैं जो आईएमए अपनी मूल्यांकन और पुरस्कार नीति के तहत उत्कृष्ट जेंटलमैन कैडेटों (जीसी) को देता है, चाहे उनकी राष्ट्रीयता कुछ भी हो। यह पुरस्कार कैडेट्स में प्रतिस्पर्धा करने और जीतने की भावना पैदा करने के लिए प्रेरित करते हैं।

From around the web

>