पुंछ मुठभेड़: शहीदों के परिवारों को 50-50 लाख रुपये और नौकरी देने का पंजाब सरकार ने किया ऐलान

 

जम्मू कश्मीर के पुंछ मुठभेड़ में शहीद राज्य के तीन जवानों के परिवारों पंजाब के मुख्यमंत्री ने 50-50 लाख रुपये का मुआवज़ा देने का एलान किया है। सीएम चन्नी ने सोमवार को शहीद नायब सूबेदार जसविन्दर सिंह सेना मेडल, नायक मनदीप सिंह और सिपाही गज्जन सिंह के परिवारों के एक-एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की भी घोषणा की है। ये तीनों जवान पुंछ सैक्टर (जम्मू-कश्मीर) में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हो गए थे।

सीएम चन्नी ने किया ऐलान

वहीं बहादुर सैनिकों के परिवारों के प्रति संवेदना जताते हुए मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि इन शूरवीरों की तरफ से देश की एकता और अखंडता की रक्षा के लिए दिखाई गई समर्पण भावना हम सभी को प्रेरित करेगी। उन्होंने कहा कि अपने जान की परवाह किए बगैर देश के आन पर अपना सब कुछ लुटाने वाले इन वीर जवानों के परिवारों की मदद के लिए पंजाब सरकार हर प्रकार से वचनबद्ध है।


गौरतलब है कि मैकेनाइज्ड इन्फेंट्री (1 सिख) के यूनिट-4 के नायब सूबेदार जसविन्दर सिंह कपूरथला ज़िले के गांव माना तलवंडी के निवासी थे। इनके परिवार में पत्नी राज कौर और बेटी सिमरजीत कौर है। इसी तरह 11 सिख के नायक मनदीप सिंह, जो गुरदासपुर ज़िले में घणीके बांगड़ (अलीवाल से फतेहगढ़ चूड़ियाँ रोड़) नज़दीक गाँव चट्ठा शीरा के थे, उनके परिवार में पत्नी मनदीप कौर और दो बेटे हैं। जबकि 23 सिख के सिपाही गज्जन सिंह रोपड़ ज़िले में गाँव पछरन्दा के निवासी थे, जिनका विवाह चार महीने पहले हरप्रीत कौर से हुआ था।

From around the web