पीएम मोदी करेंगे संसद टीवी की शुरुआत खत्म हो जाएंगे लोकसभा और राज्यसभा टीवी

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा और राज्यसभा टीवी के एकीकृत प्रसारक ‘संसद टीवी’ को लांच करेंगे। यह मौजूदा टीवी चैनलों, लोकसभा टीवी और राज्यसभा टीवी की जगह लेगा। प्रसार भारती के सीईओ सूर्य प्रकाश के नेतृत्व में एक पैनल ने दो चैनलों के लिए एक साझा मंच को मंजूरी देने वाली एक रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद लगभग दो साल पहले इसकी योजना बनाई थी। इसका उद्देश्य लागत में कटौती, चैनल प्रबंधन को सुव्यवस्थित करना और दर्शकों और विज्ञापनदाताओं के लिए इसे आकर्षक बनाने के लिए सामग्री को फिर से तैयार करना है।

लोकसभा और राज्यसभा टीवी दोनों ही लाभ कमाने वाली संस्थाएं हैं, जो मुख्य रूप से सार्वजनिक क्षेत्र के दिग्गजों और केंद्रीय मंत्रालयों के विज्ञापनों पर चलती हैं। संसद सत्र के दौरान दोनों सदनों की लाइव स्ट्रीमिंग सुनिश्चित करने के लिए संसद टीवी के पास दो चैनल होंगे। नाम न जाहिर करने की शर्त पर राज्यसभा के एक अधिकारी ने कहा, 'चैनलों की तैयारी पूरी हो चुकी है और ये लॉन्च के लिए तैयार हैं।

अधिकारियों ने कहा कि राज्यसभा टीवी प्रतिष्ठान-यह तालकटोरा स्टेडियम से सटे किराए की संपत्ति से चलता है- को नई इकाई बनाने के लिए एलएसटीवी के बुनियादी ढांचे के साथ मिला दिया जाएगा। लोकसभा सचिवालय के एक आंतरिक आदेश में कहा गया है कि पूर्व कपड़ा सचिव रवि कपूर को एक साल की अवधि के लिए अनुबंध पर नई इकाई का सीईओ नियुक्त किया गया है। अवकाश के दौरान चैनल अंग्रेजी और हिंदी में करंट अफेयर्स कार्यक्रम चलाएंगे।

From around the web