मकर संक्रांति के अवसर पर 75 लाख से ज्यादा लोगों ने किया सूर्य नमस्कार

 

 देशभर में आज मकर संक्रांति और पोंगल का त्योहार बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई नेताओं ने देशवासियों को बधाई दी है। वहीं केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने शुक्रवार को मकर संक्रांति के मौके पर 75 लाख लोगों के लिए वैश्विक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम का आयोजन किया। सुबह सात बजे शुरू हुए इस कार्यक्रम का उद्घाटन केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने सूर्य नमस्कार करके किया। दुनिया भर में एक साथ आयोजित हुए इस कार्यक्रम में 75 लाख लोगों ने भाग लिया।

इस मौके पर सर्वानंद सोनोवाल ने कहा कि मकर संक्रांति के अवसर पर सूर्य नमस्कार के कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह योग आसन महामारी में स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। सूर्य नमस्कार सूर्य की प्रत्येक किरण के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने के लिए सूर्य को प्रणाम के रूप में किया जाता है, क्योंकि वह सभी जीवों का पोषण करता है।

उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक दृष्टि से, सूर्य नमस्कार को प्रतिरक्षा विकसित करने और जीवन शक्ति में सुधार करने के लिए जाना जाता है, जो महामारी की आज की इस स्थिति में लोगों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। सूर्य के संपर्क में आने से मानव शरीर को विटामिन डी मिलता है, जिसे दुनिया भर की सभी चिकित्सा शाखाओं में व्यापक रूप से मान्यता मिली है।

From around the web