शपथ से पहले ममता ने बुलाई आपातकालीन बैठक, लगाए जा रहे ये कयास

 

बुधवार को मुख्यमंत्री के तौर पर तीसरी बार शपथ लेने से पहले वर्तमान कार्यवाहक मुख्यमंत्री के तौर पर ममता बनर्जी ने राज्य के मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक समेत गृह विभाग के सचिव और प्रशासन से संबंधित अन्य आला अधिकारियों की आपातकालीन बैठक अपने आवास पर बुलाई है। माना जा रहा है कि चुनाव बाद बंगाल में भड़की हिंसा को लेकर कदम उठाने का निर्देश सीएम दे सकती हैं।

हालांकि राज्य सरकार के उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया है कि बंगाल में हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में मामला दाखिल होने और भाजपा के शीर्ष नेताओं के बंगाल पहुंचने के बाद हालात बिगड़ने के आसार हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा पलटवार की स्थिति में राज्य भर में कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ सकती है। इसीलिए सीएम ने बैठक बुलाई है। राज्य भर में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या और घरों में आगजनी, तोड़फोड़, दफ्तरों में लूटपाट आदि के संबंध में कोई ठोस कार्रवाई का निर्देश सीएम देंगी, इसकी संभावना कम है। बहरहाल मीटिंग के बाद आधिकारिक प्रेस वार्ता का इंतजार हो रहा है।

उल्लेखनीय है कि बंगाल में हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चिंता जाहिर की है और राज्यपाल जगदीप धनखड़ से हालात की जानकारी ली है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भी ममता बनर्जी की सरकार से इस मामले में विस्तृत जवाब मांगा है और पूछा है कि क्या कार्रवाई की गई है।

उधर केंद्रीय महिला आयोग ने बंगाल में महिलाओं से सामूहिक दुष्कर्म और उत्पीड़न की घटना पर राज्य पुलिस महानिदेशक को चिट्ठी लिखी है और कार्रवाई की अनुशंसा के साथ ही उठाए गए कदमों के बारे में भी जानकारी मांगी है।

From around the web

>