देश में हर दिन हुआ 21 किलोमीटर NH का निर्माण, आत्मनिर्भर भारत योजना का कमाल

 

केंद्र सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 में सितंबर तक 3824 किलोमीटर लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों का निर्माण किया है। इस प्रकार पिछले छह माह में प्रतिदिन 21 किलोमीटर राजमार्ग बनाए गए हैं। जबकि सरकार ने गत वर्ष प्रतिदन 30 किलोमीटर राजमार्ग बनाने का रिकार्ड कायम किया था। सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मानसून के चलते राजमार्ग बनाने का काम सुस्त रहा है। अक्तूबर से मार्च के बीच देशभर में तेजी से राजमार्ग बनाए जांएगे। उन्होंने बताया कि पिछले साल इस अवधि (अप्रैल-सितंबर) में सरकार ने 3950 किलोमीटर राजमार्ग बनाए थे।

उन्होंने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष में सितंबर तक 4609 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं को आवर्ड किया गया है। गत वर्ष इस अवधि में 5052 किलोमीटर राजमार्ग परियोजनाएं अवार्ड की गई थीं। अधिकारी ने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष में राजमार्ग निर्माण कार्य संतोषजनक है। सरकार ने 2021-22 में 40 किलोमीटर प्रतिदिन राजमार्ग बनाने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा गया है। जिसे पूरा कर लिया जाएगा। इस प्रकार एक साल में सड़क परिवहन मंत्रालय 14600 किलोमीटर राजमार्गों का निर्माण किया जाएगा।

 सड़क परिवहन मंत्रालय के आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत लिए फैसले कारगर सबित हुए। मंत्रालय ने जटिल टेंडर प्रक्रिया नियमों को लचीला बना दिया। इसमें देश की निर्माण व गैर निर्माण क्षेत्र की देशी कंपनियां सड़क परियोजनओं में टेंडर प्रक्रिया में भागीदारी के लिए योग्य हो गई हैं। राजमार्ग परियोजनाओं के ठेके मिलने लगे। इसके अलावा ठेकेदारों व निर्माण कंपनियों को हर महीने भुगतान व्यवस्था लागू की। इससे राजमार्ग क्षेत्र में पैसे का अभाव लगभग समाप्त हो गया और निर्माण कार्य सुचारू रूप से चल रहे हैं।

From around the web