Sunday, June 26, 2022
HomeNationalmaharashtra government sharad pawar पवार को सरकार बचने की उम्मीद

maharashtra government sharad pawar पवार को सरकार बचने की उम्मीद

मुंबई। शिव सेना के 35 से ज्यादा विधायकों के बागी होने के बाद महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार संकट में आ गई है। हालांकि ढाई साल पुरानी उद्धव ठाकरे सरकार के लिए संकटमोचन का काम कर रहे शरद पवार ने कहा है कि अघाड़ी सरकार पूरी तरह से स्थिर है और चलती रहेगी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को अस्थिर करने का प्रयास तीसरी बार भी विफल हो जाएगा। हालांकि उन्होंने शिव सेना विधायकों की बगावत पर कुछ नहीं कहा। बताया जा रहा है कि उन्होंने एकनाथ शिंदे को ही सीएम बनाने की सलाह दी है। हालांकि शिंदे इस बात पर अड़े हैं कि एनसीपी और कांग्रेस से गठबंधन समाप्त किया जाए।

बुधवार को फेसबुक लाइव के जरिए अपने बागी विधायकों से अपील करने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की शरद पवार से मुलाकात हुई। पवार और उनकी बेटी सुप्रिया सुले ने मुख्यमंत्री के आवास पर जाकर उद्धव से मुलाकात की। दूसरी ओर कांग्रेस की ओर से पर्यवेक्षक के रूप में मुंबई भेजे गए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने भी कहा कि सरकार स्थिर है। उन्होंने शिव सेना के बागी विधायकों के वापस लौटने के सवाल पर कहा कि इस बारे में उद्धव ठाकरे ही कुछ कह सकते हैं। उन्होंने कहा कि उनकी शरद पवार से बात हुई है और एनसीपी व कांग्रेस ने शिव सेना के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन जारी रखने का फैसला किया है।

मुंबई में बुधवार को दिन भर राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से चलता रहा। बुधवार को एनसीपी ने अपने विधायकों के साथ बैठक की। कांग्रेस के पर्यवेक्षक कमलनाथ ने भी पार्टी के सभी विधायकों के साथ एक मीटिंग की। भाजपा नेताओं ने भी अलग अलग इलाकों में मीटिंग की। शिव सेना के नेता अब भी सरकार बच जाने का दावा कर रहे हैं। गौरतलब है कि 56 विधायकों के साथ शिव सेना गठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी है। लेकिन अगर उसके 35 विधायक बागी हो जाते हैं तो सरकार बहुमत गंवा देगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -