स्वस्थ आंखों और आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए आप कौन सा योग करना चाहिए हैं? जान लें

 

आंखें शरीर का सबसे नाजुक और महत्वपूर्ण अंग हैं। आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए आंखों की सही देखभाल जरूरी है। योगासन आंखें खुली रखते हैं। आजकल लगातार मोबाइल में देखना या लैपटॉप पर काम करना, कंप्यूटर दृष्टि को प्रभावित कर सकता है। इसके लिए आप कुछ योगा करके आंखों की सेहत का ख्याल रख सकते हैं।

भूमि पाद मस्तकासन

भूमि पाद मस्तकासन एक दैनिक योगाभ्यास है जो आंखों की रोशनी में सुधार करता है। यह गर्दन, पीठ, पैर और बाहों की मांसपेशियों को मजबूत करने में भी मदद करता है। यह आसन कानों की सुनने की क्षमता को भी बढ़ाता है। इन आसनों का उपयोग एकाग्रता बढ़ाकर तनाव कम करने के लिए किया जाता है।

सूर्यनमस्कार

सूर्यन मस्कार शरीर के अतिरिक्त वजन को कम करने और आंखों के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है। यदि आपकी दृष्टि कम है, तो नियमित रूप से 10 सूर्य नमस्कार करें।

शवासन

शवासन से थकान दूर होती है। आंखों को काफी आराम मिलता है। इस आसन को करने से दृष्टि में सुधार होता है। शरीर को आराम मिलता है।

बद्धकोणासन

बद्धकोणासन को तितली आसन के रूप में भी जाना जाता है। क्योंकि इस आसन को करते समय शरीर को तितली के आकार का बनाना होता है। बद्धकोणासन शरीर में रक्त के प्रवाह में सुधार करता है और जोड़ों को मजबूत करता है। आंखों के स्वास्थ्य में सुधार करता है।

त्राटक योग

दृष्टि में सुधार के साथ-साथ नेत्र विकारों से छुटकारा पाने के लिए त्राटक योग करना चाहिए। इससे एकाग्रता और स्मरण शक्ति बढ़ती है। नियमित स्ट्रोक तनाव, चिंता और थकान को दूर करने में मदद करते हैं।

From around the web