शरीर को रोगमुक्त रखने को रोजाना एक चम्मच घी का जरूर करें सेवन

 

भारतीय व्यंजन का स्वाद बढ़ाने के लिए बहुत समय पहले से ही देशी घी का इस्तेमाल हो रहा है। देशी घी के इस्तेमाल से व्यंजन का स्वाद भी दोगुना हो जाता है और सेहत भी अच्छी रहती है। घी में कई तरह के आयुर्वेदिक गुण भी पाये जाते हैं। घी के सेवन से कई बीमारियां दूर रहती है। वर्तमान समय में देश कोरोना से जंग लड़ रहा है। ऐसे में चिकित्सक यही सलाह देते हैं कि कोरोना को दूर रखने के लिए शरीर का इम्यून पाॅवर मजबूत होना बेहद जरूरी है।

ऐसे में शरीर को रोगमुक्त और चुस्त-दुरूस्त रखने में घी बेहद मददगार साबित होता है। घी में विटामिन ए, के, इ, ओमेगा-3 और ओमेगा-9 फैटी एसिड पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। घी के सेवन के कई फायदे होते हैं। घी में ब्यूटीरिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो पेट संबंधी बीमारियों को दूर रखता है। साथ ही ब्यूटीरिक एसिड मेटाबॉलिज्म को सही करता है, जिससे अमाशय सुचारू रूप से काम करने लगता है। शरीर की कोशिकाओं के लिए घी बेहद लाभदायक होता है। लेकिन लोग घी का सेवन इसीलिए नही करते हैं कि इससे वजन बढ़ेगा। यह सही है अति किसी भी चीज की अच्छी नहीं होती। इसलिए रोजाना खाने के साथ एक चम्मच घी जरूर खायें। इससे शरीर में कोशिका का विकास होता है। साथ ही यह शरीर में मौजद पोषक तत्वों का अवशोषण कर महत्वपूर्ण हार्मोन को उत्सर्जित करता है।

घी के सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी बढ़ोत्तरी होती है। घी खाने से बदलते मौसम में होने वाली बीमारियों को भी दूर रखा जा सकता है। घी के सेवन से संक्रमण का खतरा कम हो जाता है। इसमें पाया जाने वाला ब्यूटीरिक एसिड, विटामिन-ए और सी इम्यून सिस्टम मजबूत करने में अहम भूमिका निभाता है।

From around the web

>