वजन कम करने के लिए लौकी है सबसे असरदार, जानें इसके फायदे

 

आमतौर पर लोग कुछ सब्जियों को खाने से बचते हैं अब का नहीं पता मगर मेरे बचपन में तो घरों में इनके बनने पर बच्चे खासतौर पर क्लेश करते थे। ये सब्जियां थीं, लौकी, तुरई, करेला, परवल ,टिंडा आदि। शायद आज जागरूकता आ गयी हो। असल में ये सभी सब्जियां बेहद गुणकारी होती हैं घर के बड़े लोग इनको चाव से खाते थे। चलिए आज लौकी के बारे में थोड़ा जानकारी करने की कोशिश करते हैं और समझते हैं कि हम इसको न खाकर क्या मिस कर देते हैं।

आमतौर पर दो तरह की लौकी दिखती हैं गोल और लंबी। ये अपने गुणों के चलते आज बहुत ही लोकप्रिय सब्जी है वैसे भी कमर्शियल खेती होती है जहां अनेक सब्जियां लटकाकर उगाई जाती हैं ताकि सुडौल और सुंदर दिखें तो लौकी काफी सीधी और खूबसूरत होती है और 12 महीने मिलती हैं।

लोकी के फायदे
1. जो लोग वजन कम करना चाहते हैं वे लौकी को खूब पसंद करते हैं क्योंकि इससे अधिक सुरक्षित और तेजी से वजन कम कोई दूसरी चीज नहीं करती,लोग इसका जूस भी पीते हैं।
2. इसके नियमित सेवन से त्वचा भी निखरती है,इसके टुकड़े से चेहरे की मालिश की जाय तो भी त्वचा काफी निखरती है।
3.सुबह उठकर खाली पेट लौकी का जूस पीने से डाइबटीज नियंत्रित रहती है।
4. इसका का जूस पीने से गैस में राहत मिलती है और पाचनतंत्र भी सही रहता है।
5. लौकी में विटामिन ए,सी के साथ साथ कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, पोटेशियम, सोडियम और जिंक भी होता है ये सब शरीर को तमाम रोगों से बचाकर स्वस्थ रखते हैं।
6. लौकी कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सक्षम है जिस से दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है।
7. अगर सांस लेने में दिक्कत है तो लौकी उबालकर खाने से लाभ होता है ये मूत्राशय की परेशानियों में भी लाभकारी है। लोग फटी एड़ियों में भी इसका उपयोग करते रहते हैं।

कुल मिलाकर ये सबसे हल्की और लाभकारी सब्जियों में अग्रणी है मिठाई के रूप में भी इसका बहुत उपयोग होता है। कपुरकंद इससे ही बनता है। साथ ही बर्फी भी। हमको ये चीजें बहुत कम मीठी लेनी चाहिए। अन्य सावधानियों में लौकी के जूस में किसी अन्य सब्जी या फल का जूस नहीं मिलाना चाहिए। जूस बनाने से पहले टेस्ट कर लेना चाहिए कि लौकी कड़वी न हो उसमे टेट्रासाइक्लिक होता है जिससे शरीर मे समस्या हो सकती है जैसे जी मिचलाना,डिहाइड्रेशन,गैस आदि।

From around the web