IPL दिनेश कार्तिक और राहुल तेवतिया के रूप में भारत को दे रहा है ‘फिनिशर’ के विकल्प

0
50


नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का प्रदर्शन राष्ट्रीय टीम में चयन का एकमात्र मापदंड नहीं हो सकता लेकिन दिनेश कार्तिक और राहुल तेवतिया ने अपनी फ्रेंचाइजी के लिये फिनिशर की भूमिका में शानदार प्रदर्शन से खुद के लिये आगामी टी20 विश्व कप के लिये निश्चित रूप से मजबूत दावेदारी पेश की है। ऑस्ट्रेलिया में होने वाले इस टी20 विश्व कप में केवल चार महीने का समय रह गया है। लेकिन, चयनकर्ताओं और टीम प्रबंधन को जल्द ही खिलाड़ियों के कोर ग्रुप पर फैसला करना होगा जिसकी शुरूआत अगले महीने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों की घरेलू श्रृंखला से होगी।

Advertisement

आधुनिक क्रिकेट में ‘फिनिशर’ की भूमिका का महत्व बढ़ता ही जा रहा है और भारतीय टीम को निश्चित रूप उन खिलाड़ियों की जरूरत होगी जो पहली गेंद से ही शॉट लगा सकें। फिटनेस मुद्दों के कारण हार्दिक पांड्या की अनुपस्थिति में भारतीय टीम प्रबंधन ने पिछले साल विश्व कप के बाद मध्यक्रम में दीपक हुड्डा और वेंकटेश अय्यर को आजमाया लेकिन ये उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके। हार्दिक ने आईपीएल में वापसी करते हुए अच्छा प्रदर्शन किया है और खुद को भी राष्ट्रीय टीम में दावेदारी के लिये शामिल कर लिया है।

हालांकि हुड्डा और हार्दिक अपनी अपनी आईपीएल फ्रेंचाइजी में बल्लेबाजी क्रम में ऊपर खेल रहे हैं लेकिन राष्ट्रीय टीम में उनके निचले क्रम में खेलने की उम्मीद होगी। वेंकटेश का आईपीएल में दूसरा साल मुश्किल रहा और वह ‘फिनिशर’ दावेदारी के क्रम में निचले स्थान पर खिसक गये हैं। भारतीय टीम में केवल रविंद्र जडेजा ही एकमात्र बेहतरीन ‘फिनिशर’ मौजूद हैं जिससे कार्तिक और तेवतिया को इस भूमिका में उम्मीद दिखी और उन्होंने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन कर इस टूर्नामेंट का पूरा इस्तेमाल किया। तेवतिया ने असंभव परिस्थितियों में भी मैच जीतने की ख्याति अर्जित कर ली है जबकि 2004 में भारत के लिये पदार्पण करने वाले कार्तिक ने एक और वापसी के लिये गजब की ललक दिखायी है।

पूर्व भारतीय मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद को लगता है कि कार्तिक और तेवतिया दोनों को नौ जून से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू होने वाली श्रृंखला में जरूर आजमाया जाना चाहिए जबकि हार्दिक को भी वापसी कराने की बात की। उन्होंने कहा, ‘‘हार्दिक, जड्डू (जडेजा), कार्तिक और तेवतिया फिनिशर की भूमिका में मेरे चार खिलाड़ी होंगे। कार्तिक और तेवतिया इस आईपीएल सत्र में कमाल का प्रदर्शन कर रहे हैं और हार्दिक ने भी अच्छी वापसी की है। विश्व कप में अब भी कुछ समय बचा है लेकिन कार्तिक और तेवतिया को मौका दिया जाना चाहिए। ’’ प्रसाद ने कहा, ‘‘अगर आप कार्तिक को देखो तो उसने भारत के लिये टी20 प्रारूप में लगातार अच्छा किया है जिसमें निदहास ट्राफी शानदार रही। ’’

हार्दिक पर उन्होंने कहा, ‘‘वह आस्ट्रेलिया में वह आपका मुख्य खिलाड़ी होगा जहां टी20 विश्व कप होना है। लेकिन मैं उसे नियमित रूप से गेंदबाजी करते हुए भी देखना चाहूंगा। हमें आस्ट्रेलिया में उसके हरफनमौला कौशल की जरूरत होगी। ’’ हार्दिक गुजरात टाइटन्स के लिये प्रत्येक मैच में गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं लेकिन सत्र के दौरान उन्होंने 20 के करीब ओवर डाले हैं और चौथे नंबर पर कुछ अहम रन भी जुटाये हैं। चयन समिति में प्रसाद के साथी रहे सरनदीप सिंह ने कहा कि बड़ौदा के आल राउंडर को खुद को दावेदारी में बनाये रखने के लिये नियमित रूप से गेंदबाजी करनी होगी।

उन्होंने कहा, ‘‘आप टीम में बल्लेबाज के तौर पर नहीं खेल सकते। इससे आपका एक गेंदबाजी विकल्प कम हो जायेगा। कार्तिक को भी शामिल किया जा सकता है लेकिन क्या वह बल्लेबाज के तौर पर खेलेगा और ऋषभ (पंत) विकेटकीपिंग करेगा, मुझे नहीं लगता। लेकिन उसने (कार्तिक) निश्चित रूप अपने दावेदारी रखी है और उसे अपार अनुभव भी है। ’’ पूर्व भारतीय स्पिनर ने कहा, ‘‘अगर लगातार विकेट गिर जाते हैं तो उसमें (कार्तिक) अपनी भूमिका बदलने की काबिलियत है। तेवतिया ने भी आईपीएल में अच्छा किया है लेकिन मुझे शक है कि वह आस्ट्रेलिया में इस फॉर्म का दोहराव कर पायेगा। ’’

ये भी पढ़ें : Uber Cup : थाईलैंड से हारकर भारत उबेर कप बैडमिंटन से बाहर

 





Source link