खतरनाक है शरीर में विटामिन बी12 की कमी, जानिए इसके लक्षण और बचने के तरीके

 
विटामिन बी12, हमारे शरीर में ऑक्सीजन सप्लाई करने वाले रेड ब्लड सेल्स (आरबीसी) के लिए काफी महत्वपूर्ण पोषक तत्व होता है। इसके अलावा यह तंत्रिका ऊतकों के स्वास्थ्य और उचित कामकाज के लिए भी जरूरी होता है। यह तंत्रिकयों को कवर करने वाले और तंत्रिका आवेगों को आगे बढ़ाने वाले सुरक्षात्मक माइलिन आवरण के प्रोडक्शन में मदद करता है। लेकिन आजकल के बदलते लाइफस्टाइल से शरीर में विटामिन बी 12 की कमी का खतरा बढ़ रहा है। विटामिन बी12 की कमी से आपके लिए खतरनाक साबित हो सकती है। इसकी कमी से कमजोरी, थकान, कॉन्सटिपेशन जैसी परेशानियां हो सकती हैं। आइए जानते हैं विटामिन बी12 की कमी के कारण, लक्षण और इससे बचने के उपाय।

क्यों होती है शरीर में विटामिन बी12 की कमी: एक स्टडी के मुताबिक मांसाहारी के मुकाबले शाकाहारी लोगों में विटामिन बी12 की कमी की ज्यादा आशंका होती है। क्योंकि ज्यादातर जानवरों के मांस में विटामिन बी12 पाया जाता है। इसके अलावा जो लोग शराब का नियमित सेवन करते हैं उनमें भी विटामिन बी12 की कमी होती है। विटामिन बी12 हमारी बॉडी के लिवर में स्टोर होता है और शराब लिवर को खराब करती है। इसके अलावा जिन लोगों को ऐसिडिटी की परेशानी झेलते वह लोग जो नियमित दवाइयां लेते हैं उनमें भी विटामिन बी12 की कमी हो सकती है।

विटामिन बी12 की कमी के लक्षण: अगर लंबे समय तक विटामिन बी12 की कमी का पता न चले तो यह बड़ा नुकसान कर सकती है। इसकी कमी से कमजोरी, थकान, कॉन्सटिपेशन जैसी परेशानियां हो सकती हैं। हाथों और पैरों में झनझनाहट की वजह भी विटामिन बी12 की कमी से होती है। विटामिन बी12 की कमी की वजह से याददाश्त पर असर पड़ सकता है। बी12 की कमी के चलते पेट और ब्लैडर को भी नुकसान पहुंचा सकता है।

विटामिन बी12 की कमी से कैसे बचें: शरीर में विटामिन बी12 की कमी से बचने के लिए डेरी प्रॉडक्ट्स का सेवन जरूरी है। इसका सबसे अच्छा स्त्रोत मीट, टर्की, चिकन, मछली है। सब्जियों में विटामिन बी12 नहीं होता इसीलिए शाकाहारियों में विटामिन बी12 की कमी ज्यादा हो सकती है। शराब के अधिक सेवन से बचें और धूम्रपान छोड़ दें।

From around the web

>