डेंगू बुखार में तुरंत राहत देता है पपीते का पत्ता, जानिए कैसे करें इस्तेमाल

 
पपीता स्वास्थ्यप्रद फलों में से एक के रूप में माना जाता है। पपीता कई बीमारियों को ठीक करने में मदद करता है। केवल गूदा ही नहीं बल्कि इसके पत्तों में कई उपचार गुण होते हैं। इसकी पत्तियां प्लेटलेट काउंट को बढ़ाने के लिए अच्छी तरह से जानी जाती हैं और मलेरिया-रोधी गुणों से भी समृद्ध होती है, जिससे यह डेंगू बुखार और अन्य बीमारियों से लड़ने के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपाय बन जाता है। पपीते के पत्तो का इस्तेमाल डेंगू के मरीजों के लिए बेहद लाभकारी होता है। इसका जूस प्लेटलेट्स काउंट को बढ़ाता है और डेंगू के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।
 

पपीते की पत्तियों में फेनोलिक यौगिक, पपैन और एल्कलॉइड होते हैं और ये पोषक तत्व मजबूत एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करते हैं, जो बदले में, शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं। साथ ही, पपैन और एक अन्य यौगिक का संयोजन आवश्यक प्रोटीन को प्रभावी ढंग से पचाने में मदद करता है जो पाचन संबंधी समस्याओं को ठीक कर सकता है।
 

पत्ती का अर्क डेंगू से पीड़ित रोगियों में प्लेटलेट काउंट बढ़ाता है। 400 रोगियों पर किए गए एक अध्ययन के अनुसार, डेंगू के लिए मानक उपचार प्राप्त करने वाले और उनमें से आधे, जो नियंत्रण समूह में थे, उन्हें गोलियों के रूप में पपीते के पत्ते के अर्क की एक विशिष्ट खुराक मिली। यह पाया गया कि नियंत्रण समूह के रोगियों में पपीता चिकित्सा के दौरान एक ऊंचा प्लेटलेट काउंट था और इसके कम दुष्प्रभाव थे। उन्हें रक्त संचार की भी आवश्यकता नहीं थी।
 

यूं करें इस्तेमाल

अगर आप भी डेंगू से लड़ने के लिए पपीते के पत्तों का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इसे कई तरीकों से प्रयोग करें। सबसे पहले तो आप पपीते के पत्तों को धोने के बाद सुखा लें। अब इन पत्तों को छोटे टुकड़ों में काट लें। अब इन पत्तों को एक पैन में डालें और साथ में करीबन दो लीटर पानी भी डालकर उबालें। जब इसमें उबाल आ जाए तो आंच को धीमा कर दें और तब तक उबालें, जब तक पानी आधा न रह जाए। अब इस पानी को छानकर इसका सेवन करें।

वहीं कुछ पपीते की पत्तियां लें और पहले उसे क्रश कर लें। अब इसका रस निकालें और दिन में दो बार करीबन दो चम्मच रस का सेवन करें। आपको जल्द ही राहत मिलेगी।

इसके अतिरिक्त पका हुआ पपीता भी डेंगू से लड़ने में मददगार है। इसके लिए आप पके पपीते का जूस निकालकर इसमें थोड़ा नींबू का रस मिलाएं और दिन में कम से कम दो−तीन बार इस जूस का सेवन करें। इससे आपका डेंगू फीवर बेहद जल्द ठीक होगा।

From around the web

>