जौ में छिपा गठिया और पथरी जैसी बीमारियों को खत्म करने का राज़, जानिए

 
जौ हमारे शरीर को कई बिमारियों से छुटकारा भी दिलाता है। जौ के इस्तेमाल से यह मधुमेह, शरीर में सूजन, कब्ज की दिक्कत, गठिया आदि बीमारियों में सहायता मिलती है। जौ एक स्वादिष्ट और सेहतमंद अनाज है इसमें कई पोषक तत्व जैसे विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, बीटा और ग्लूकेन, मैगनीज, प्रोटीन, अमीनो एसिड, डायट्री फाइबर्स और कई तरह के एंटी-ऑक्सीडेंट और लेक्टिक एसिड पाए जाते हैं। यह पेट के लिए काफी लाभदायक है और पाचन में बेहद सहायक। तो आइये जानते हैं जौ के औषधीय गुण तथा उपयोग।

गठिया रोग को दूर करने में - गठिया की दिक्कत और जोड़ों में दर्द जौ के पानी का रोजाना सेवन करें इससे जरुर राहत मिलेगी।

पैरो की सूजन दूर करने में - गर्भावस्था के दौरान महिला के पैरों में अक्सर सूजन आ जाती है इसक सूजन को दूर करने के लिए नियमित रूप से जौ का पानी पीना चाहिए।

पथरी को मिटने में - जौ पथरी रोग में भी बहुत लाभकारी होती है जौ का पानी पीने से पथरी निकल जाती है। पथरी के मरीज जौ से बनी चीजें जैसे-जौ की रोटी, धाणी, जौ का सत्तू लेना चाहिए। इससे पथरी निकलती है और दुबारा नहीं बनती है।

खून साफ़ करने में - जौ का पानी शरीर को अंदर से भी डीटोक्स करता है यह खून साफ़ करने वाला अच्छा टॉनिक होता है।

गले की सूजन दूर करने में - गले में सूजन, प्यास अधिक और जलन हो तो एक कप भरकर जौ पीस लें और फिर उन्हें दो गिलास पानी में आठ घण्टे भीगने दें। इसके बाद उबालकर पानी को छान लें। हल्का गुनगुना होने पर रोजाना दिन में दो बार गरारे करें। लाभ होगा।

From around the web