18 की उम्र के बाद इन तरीको से बढ़ाएं अपनी लंबाई

 

हम सब बहुत अच्छी तरह से इस तथ्य से परिचित हैं कि सामान्य रूप से किसी व्यक्ति की लंबाई यौवन के दौरान बढ़ती हैं। लेकिन हम आपको बता दें कि यौवन के दौरान किसी व्यक्ति की लंबाई सबसे ज्यादा बढ़ती हैं और ये यौवन के बाद भी बढ़ना बंद नहीं होती हैं। ये सिद्ध तथ्य हैं कि उम्र के बावजूद, यौवन के बाद भी लंबाई बढ़ती हैं। इसके पीछे की वजह ये हैं कि मानव विकास हार्मोन पूरी तरह से बनना बंद नहीं होता हैं।

किसी भी व्यक्ति की लंबाई दो कारणों पर निर्धारित होती हैं पहला आनुवांशिक और गैर आनुवांशिक। गैर आनुवांशिक आपके वातावरण, आहार और जीवनशैली पर निर्भर करता हैं। किशोरावस्था के बाद भी आपकी कुछ इंच लंबाई बढ़ सकती हैं।


1- संतुलित आहार-
एक संतुलित आहार लंबाई बढ़ाने के लिए सबसे जरूरी होता है। संतुलित आहार का मतलब होता हैं एक ऐसा आहार जो कार्बोहाइड्रेट, स्वस्थ वसा, प्रोटीन आदी से… कुछ लोगों की धारणा हैं कि कार्बोहाइड्रेट और वसा स्वास्थ के विकास के लिए अच्छा नहीं होता हैं जो कि गलत हैं। तो अगर आप अपनी लंबाई को बढ़ाना चाहते हैं तो कार्बेहाइड्रेट और स्वस्थ वसा का जरूर सेवन करें।

कैल्शियम और विटामिन डी लंबाई बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होता हैं। इसके लिए दूध, पनीर, हरी पत्तेदार सब्जियां, अंड़े आदी लें।

2- पर्याप्त नींद-
70 से 80 प्रतिशत ग्रोथ हार्मोन ज्यादातर रात के दौरान बनते हैं। इसलिए 7 से 8 घंटे की नींद लेना बहुत जरूरी हैं।

3- रोजाना करें व्यायाम-
एक अध्ययन के अनुसार रोजाना व्यायाम करने से ग्रोथ हार्मोन बढ़ जाते हैं। लंबाई को बढ़ाने के लिए मांसपेशियों को हिलाना सबसे बेहतर होता हैं। लंबाई को जल्दी बढ़ाने के लिए आप अपनी दिनचर्या में बैडमिंटन, तैराकी, टेनिस को भी शामिल कर सकती हैं।

4- योगा करें
अगर आप कार्डियो कसरत के एक प्रशंसक हैं तो आप योगा करने की कोशिश कर सकते हैं। आज के समय में योगा के पास हर तरह की बीमारी के उपाय हैं। योगा आपकी नसों को शांत करता हैं इससे आपके शरीर का रक्त संचार होता है जिससे ग्रोथ हार्मोन बढ़ता हैं।

भुजंगासन – ये मुद्रा विशेष तौर पर आपकी छाती और शरीर पर ध्यान देती हैं। ये आपके कोर और रीढ़ की हड्डी को मजबूत करती हैं जिसकी वजह से आपकी लंबाई बढ़ती हैं।

ताडासन योगा – ताड़ासन आपके आसन में सुधार लाता हैं और आपकी रीढ़ की हड्डी को बढ़ाता हैं।

सूर्य नमस्कार- सूर्य नमस्कार आपके शरीर की कसरत कराता हैं। ये सारी मांसपेशियों को फैलाता हैं और शरीर के मुद्रा को सही करता हैं। ये आपके अंग और रीढ़ की हड्डी में लचीलापन लाता हैं।

चक्रआसन – ये मुद्रा आपके पेट की मांसपेशियों और पीठ की मांसपेशियों को मजबूत करती हैं और आपकी मुद्रा में सुधार लाती हैं।

5- वजन कम करें-
अगर आपके वजन ज्यादा हैं तो पहले आपको अपना वजन नियंत्रित करना होगा फिर आप अपनी लंबाई बढ़ाने के बारे में सोच सकते हैं। जिनका वजन ज्यादा होता हैं उनके खून में इंसुलिन की मात्रा ज्यादा होती हैं। हाई ब्लड़ प्रेशर और फैटी एसिड़ ग्रोथ हार्मोन को कम करते हैं।

From around the web