दातों में नीम की दातून करने के ये फायदे जानेंगे तो आप भी छोड़ देंगे टूथपेस्‍ट-ब्रश!

 
आयुर्वेद में नीम को सबसे महत्‍वपूर्ण हर्ब माना गया है। नीम एंटीसेप्टिक होता है। इसकी पत्तियों से बना तेल बालों और त्‍वचा के लिए फायदेमंद होता है वहीं इसका दातुन दांतों के लिए और मसूड़ों के लिए फायदेमंद होता है।’ दातों के लिए नीम के दातुन बहुत बहुत लाभदायक होती हैं। जानिए नीम की दातुन दातों के लिए कैसे    फायदेमंद है।
 


1. अगर आप चाहते हैं कि आपके दांतों में कभी कीड़ा न लगे तो आपको रोज सुबह एक बार नीम के दातून से दांतों को साफ करना चाहिए। अगर आप नियमित रूप से नीम के दातून से दांतों को साफ करेंगी तो कभी भी कीड़े की समस्या नहीं होगी, क्योंकि यह किटाणुनाशक होता है।
 


2. नीम के दातुन से रोज दांत साफ करने का एक फायदा यह भी है कि इससे मसूड़े मजबूत होते हैं। खासतौर पर दातून को ऊपर के दांतों में ऊपर से नीचे की ओर और नीचे के दांतों में नीचे से ऊपर की ओर करने से आपके मसूड़े मजबूत होंगे।
 


3. यदि आप नियमित रूप से नीम के दातुन से दांतों की सफाई करती हैं तो आपको पायरिया की समस्या कभी भी नहीं सताएगी। इसके लिए आपको दातून को दांतों के चारों तरफ अच्छे से घुमा कर करना चाहिए जिससे सफाई ठीक से हो सके।
 


4. बाजार में तरह-तरह के माउथ फ्रेशनर आते हैं मगर नीम का दातुन नेचुरल माउथफ्रेशनर है। अगर आपके मुंह से दुर्गंध आती है तो नीम का दातुन इसे ठीक कर देता है। दातुन को आप पांच मिनट से लेकर 15 मिनट रोज करें। अगर आप दातुन करने के बाद एक से दो मिनट कुल्ला नहीं करते हैं तो इसका प्रभाव ज्यादा होता है. आप सुबह व रात को दो बार दातुन कर सकती हैं।
 


5. दांतों में किसी भी तरह के दर्द में नीम का दातुन बेहद असरदार होता है। इसे धोकर धीरे-धीरे चबाना चाहिए, उससे जो रस निकलता है वह दांतो के दर्द को दूर करता है क्योंकि यह एन्टी-बैक्टिरीयल, एन्टी-फंगल और एन्टी-वायरल गुण इस क्षेत्र में बहुत काम करता है।
 


6. आजकल दांतों के पीलेपन की समस्‍या हर किसी को होती है। इसकी सबसे बड़ी वजह जंक फूड होता है। लोग इसे दूर कराने के लिए महंगे-महंगे ट्रीटमेंट कराते हैं। मगर यह समस्‍या दूर नहीं होती । नीम के दातुन से जो रस निकलता है वह दातों के पीलेपन को साफ करके उन्हें सफेद, स्वस्थ और चमकदार बनाता है।

From around the web

>