अगर आप भी पीते है ग्रीन टी तो इससे होने वाले नुकसान भी जान ले !

 
आजकल लोगो में ग्रीन टी का चस्का चढ़ा हुआ है जिधर देखो उधर लोग नेचुरल चाय की वजय ग्रीन टी का ज्यादा इस्तेमाल करते है। ग्रीन टी की तमाम खूबियां हैं, लेकिन कुछ खामियां भी हैं। आमतौर पर ग्रीन टी को चाय की तुलना में ज्यादा सेफ माना जाता है लेकिन हाल ही में हुए एक सर्वे के अनुसार ग्रीन टी पीना सेहत के लिहाज से सही नहीं है। तो आइये जानते है इससे होने वाले नुकसान के बारे में.... 

# आप सोच रहे होंगे कि ग्रीन टी जो पूरी तरह एक प्राकृतिक पदार्थ है, उससे कुछ खतरा भी हो सकता है क्या?
जी हां, महिलाए, जो ग्रीन टी के सेवन को लेकर कहीं ज्यादा उत्साहित रहती हैं, के लिए ग्रीन टी पीना बड़ी समस्या पैदा कर सकता है और वह समस्या है प्रजनन क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव।

# ग्रीन टी में मौजूद टैनिन पेट दर्द या कब्ज की वजह बन सकता है। जिन लोगों के पेट में अल्सर हो या एसिडिटी की दिक्कत ज्यादा रहती हो उन्हें ग्रीन टी ज्यादा नहीं पीनी चाहिए।

# ग्रीन टी ज्यादा पीने से खाने में मौजूद आयरन खासकर नॉन-हीम आयरन शरीर अच्छी तरह अब्जॉर्ब नहीं कर पाता। नॉन-हीम आयरन अंडे, डेयरी प्रॉडक्ट्स के अलावा पौधों (फल-सब्जियों, अनाज, नट्स आदि) में पाया जाता है। ग्रीन टी में अगर नीबू मिला लिया जाए या इसे विटामिन-सी वाले खाने (ब्रोकली आदि) के साथ पिएं तो नॉन-हीम आयरन बेहतर जज्ब होता है।

# अगर आपको अनीमिया है तो ग्रीन टी ज्यादा पीने से परेशानी बढ़ सकती है। ऐसे में आप खाने के साथ ग्रीन टी या कोई भी चाय न लें।

# कैफीन ज्यादा मात्रा में लेने से शरीर में कैल्शियम कम जज्ब हो पाता है। इससे ऑस्टियोपॉरोरिस का खतरा बढ़ जाता है।

# प्रेग्नेंट या बच्चे को दूध पिलानेवालीं महिलाओं को दिन में 2 कप से ज्यादा ग्रीन टी नहीं पीनी चाहिए। मां के दूध के जरिए बच्चे में भी कैफीन जाता है जो उसके लिए सही नहीं है। 

From around the web