इन चीजों को दुबारा गर्म करके पर खाना बन जाता है जहर के समान

 
अक्सर आपने देखा होगा या आप खुद ने भी किया होगा की रात को बचे हुए खाने को सुबह दुबारा गर्म करके खाते हुए। लेकिन ठंडे खाने को दुबारा गर्म करके खाने से बहुत साड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। दोबारा गर्म करने पर ना केवल उनके पोषक तत्व मर जाते हैं, साथ ही वह दे जाते हैं कुछ ऐसे कण जो शरीर को केवल और केवल नुकसान ही पहुंचाते हैं। इसलिए आज हम यहां ऐसी ही एक लिस्ट प्रस्तुत करने जा रहे हैं, जिसमें कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिन्हें दोबारा गर्म करना शरीर के लिए नुकसानदेह है।

आलू - क्या आप जानते है की आलू के सभी पौष्टिक तत्व तभी खत्म हो जाते हैं जब उसे एक बार पकाने के बाद दोबारा गर्म किया जाता है। यह ना केवल खाने लायक बचते हैं, बल्कि शरीर को खतरनाक प्रभाव देते हैं।

चावल - चावल कच्चे नहीं खाने चाहिए, शायद आपने सुना भी होगा क्योंकि कच्चे चावलों में मौजूद कीटाणु के समान तत्व हमें बीमार कर सकते हैं। चावलों को पकाने से वह तत्व मर जाते हैं, लेकिन पकाने के बाद उन्हें रख दिया जाए तो वह तत्व दोबारा उजागर होना आरंभ हो जाते हैं। इसलिए इन्हें दोबारा गर्म करके खाया जाए तो यह कीटाणु कभी नहीं मरते, और यह हमें बीमार करने के लिए काफी हैं।

मशरूम - शायद आपने सुना भी हो कि मशरूम गर्म करके खाने वाली चीज़ नहीं है, यह तो जैसे ही थोड़ा पक जाए इसे खा लेना चाहिए। अब अच्छे से पकाने के बाद, थोड़ी देर रख के और फिर से इसे गर्म किया जाए, तो इससे अधिक अन-हेल्दी खाद्य पदार्थ कोई नहीं हो सकता।

पालक - मैंने कई लोगों से यह कहते सुना है कि पालक तो पकने के कुछ घंटों बाद दोबारा गर्म करके खाने पर ही अधिक स्वादिष्ट लगता है। इसे दोबारा गर्म करके खाने का मज़ा ही अलग है, यदि आप भी इन्हीं लोगों में से हैं तो कृपया अपनी यह आदत बदल डालिए।

नाइट्रेट - पालक में नाइट्रेट नामक तत्व पाया जाता है, जो पकने के कुछ घंटों के बाद ही नाइट्रायट में बदल जाता है। यह एक प्रकार का एसिड बन जाता है, जो भोजन को खाने लायक नहीं छोड़ता।

मांस, चिकन - मांसाहारी पदार्थों को पकाने के बाद अगले दिर फिर से यदि खाया जाए, तो इससे अधिक खतरनाक खाद्य पदार्थ कोई नहीं हो सकता। यह ज़हर के समान है, जो आपको अच्छे से बीमार कर सकता है।

शलगम - पालक की तरह ही शलगम भी लोग दिनों तक बार-बार गर्म करके खाने के शौकीन होते हैं, लेकिन पालक की ही तरह इसमें भी नाइट्रेट तत्व पाया जाता है, जो पकने के कुछ घंटों के बाद नाइट्रायट में बदल जाता है। इसलिए इसे भी पकने के तुरंत बाद ही ग्रहण कर लेना चाहिए।

From around the web