भुट्टा खाने के बाद भूल से भी ना करें पानी पीने गलती, नहीं तो भुगतने पड़ सकते हैं ऐसे परिणाम

 
बारिश की रिमझिम फुहारों में नींबू-नमक लगे हुए भुट्टे स्वाद से भरे तो होते ही हैं इनके हेल्थ बेनिफिट्स भी कम नहीं। फाइबर से भरे ये मकई के दाने भून कर खाएं या उबाल कर हर तरह से आपकी जीभ को ही संतुष्ट करता है और आपकी सेहत के लिए भी अच्छा है लेकिन तभी जब आप इसे खाने का तरीका भी जानते हों।

जी हां, यदि सही तरीके से भुट्टे को न खाया जाए तो ये फायदे से ज्यादा नुकसान करता है। इसलिए भुट्टा खाने से पहले ये जान लें कि इसे खाने के बाद पानी कभी नहीं पीना चाहिए। भुट्टे को खाने के बाद अगर पानी पी लिया जाए तो डायजेस्टिव सिस्टम पर बेहद गंभीर असर पड़ता है। भुट्टे चाहे उबाल कर या भून कर जैसे भी खाएं उसके बाद पानी पीने से बच कर रहें। क्योंकि भुट्टे को खाने के बाद तुरंत पानी पीने से डायजेशन गड़बड़ हो जाता है।

पाचन शक्ति होती है कमजोर
भुट्टे में फाइबर काफी होता है और जब आप इसके खा कर तुरंत पानी पीते हैं तो ये आपके पाचन क्रिया पर विपरीत प्रभाव डालता है। पानी और फाइबर के कारण फाइबर डाइजेस्ट नहीं हो पाते और इसके कारण बदहजमी और पाचन क्रिया गड़बड़ होने लगती है। पानी के कारण फाइबर पचने में बहुत वक्त लेता है और तब तक आपके पेट में परेशानी बनी रहती है।

ब्लोटिंग होती है खतरनाक
भुट्टा खाते ही पानी पीने से ब्लोटिंग की समस्या बढ़ती है। भुट्टे के मौजूद कार्बोज और स्टार्च पानी से मिल कर गैस पैदा करने लगते हैं। रफेज ज्यादा होने से पानी के ऊपर ये तैरने लगता है और यही कारण है कि पेट में गैस बनना शुरू हो जाता है। कई बार ये गैस कहीं भी अटक जाती है जो गंभीर स्थित पैदा कर देती है। एसिडिटी, पेट फूलना और पेट में ऐठन के साथ उल्टी जैसी शिकायत भी हो सकती है।

जानिए कब पीना चाहिए पानी
याद रखें भुट्टा खाने से पहले और बाद में पानी पीने का सही तरीका आपको पता होना चाहिए। भुट्टा खाने से पहले भी बहुत पानी न पीएं और खाने के बाद तो बिलकुल पानी न पीएं। करीब 45 मिनट के बाद ही आप पानी पी सकते हैं। वहीं भुट्टा खाने से आधा घंटा पहले पानी पी लें। ऐसा करके आप भुट्टे खाने का मजा ही नहीं फायदा भी उठा सकेंगे।

From around the web

>