बरसात के मौसम में इन 10 कारणों से ज़रूर खायें भुट्ठे

 
शायद कम लोगों को ही पता होता है कि मक्का या कॉर्न में छिपा होता है सेहत का खज़ाना। वैसे तो इसके बारे में बात करते ही बरसात के मौसम में ठेले के पास खड़े होकर भूट्ठा खाने की बात याद आ जाती है। साथ ही इसका स्वाद मुँह में पानी ला देता है। लेकिन इसके फायदों के बारे में जानते ही आप आश्चर्य में पड़ जायेंगे। चलिये जानते हैं, वे कौन-से हैं?

1. आजकल तो कोलेस्ट्रोल का प्रोबलेम आम हो गया है। इसमें विटामिन सी, बायोफ्लेवोनॉयड, कैरोटेनॉयड और फाइबर होता है जो कोलेस्ट्रोल को कम करके धमनियों के ब्लॉक होने से
 


2. कॉर्न में जो एन्टी-ऑक्सिडेंट और फ्लेवानॉयड होता है वह कैंसर होने के खतरे को कुछ हद तक कम करता है। एन्टीऑक्सिडेंट का गुण फ्री-रैडिकल्स से होने वाले क्षति को रोकता है। कॉर्न में फेरूलिक एसिड होता है जो ब्रेस्ट और लीवर के ट्यूमर के साइज़ को कम करने में मदद करता है।

3. चेहरे पर उम्र के साथ जो झुर्रियों की समस्या उत्पन्न होने लगती है, वह फ्री रैडिकल्स के कारण होता है। कॉर्न में जो विटामिन ए, विटामिन सी और एन्टी-ऑक्सिडेंट का गुण होता है वह झुर्रियों को आने से रोकता है। कॉर्न खाने का मजा लुटते हुए अपने त्वचा में निखार लाइए।
 


4. क्या आपको पता है कि कॉर्न जिन्क, फॉस्फोरस, मैग्नेशियम और आयरन होता है, जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में अहम् भूमिका निभाता है। यहाँ तक कि गठिया या अर्थराइटिस जैसे रोगों के संभावना को भी कम करता है।

5. कॉर्न में बीटा-कैरोटीन होता है जो विटामिन ए के उत्पादन में सहायता करता है। यह आँख संबंधी समस्या को कम और दृश्य-शक्ति को उन्नत करता है। साथ ही बढ़ते उम्र में होने वाली रतौंधी या मैक्युलर डिजनरेशन के संभावना को कम करता है।
 


6. कार्बोहाइड्रेड एनर्जी का स्रोत होता है। कॉर्न में कार्बोहाइड्रेड प्रचुर मात्रा में होता जो शरीर को भरपूर मात्रा में एनर्जी तो देता ही है साथ ही पेट को देर तक भरा हुआ रखता है।

7. कब्ज़ से कौन नहीं राहत पाना चाहता है! कॉर्न में जो फाइबर होता है वह मलाशय या कोलन में जमे हुए खाद्द पदार्थों को निकालने में सहायता कर कब्ज़ के कष्ट से राहत दिलाता है।

8. शरीर में आयरन के कमी के कारण एनिमिया की बीमारी होती है। कॉर्न आयरन के सबसे अच्छे स्रोतों में एक है। यहाँ तक कि उबला हुआ कॉर्न अपने डायट में शामिल करने से आयरन की कमी पूरी करने में मदद करने के साथ-साथ एनिमिया होने के संभावना को कम करता है।
 


9. कॉर्न में जो विटामिन बी9 और फॉलिक एसिड होता है वह गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

10. इन सब महत्वपूर्ण जानकारी के अलावा कॉर्न एक ऐसा हेल्दी स्नैक्स है जो वज़न को कंट्रोल करने के साथ-साथ आपको हेल्दी और फिट एण्ड फाइन बनाता है।

From around the web

>