First arrest in Musewala murder मूसेवाला मर्डर में पहली गिरफ्तारी

0
122

 

चंडीगढ़/नई दिल्ली। पंजाब के जाने माने गायक और कांग्रेस पार्टी के नेता सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले में पंजाब पुलिस ने पहली गिरफ्तारी की है। मनप्रीत नाम के एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है, जो इस समय पंजाब पुलिस की हिरासत में है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। इस बीच दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद गैंगेस्टर लॉरेंस बिश्नोई को दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने रिमांड पर लिया है। पंजाब की पुलिस उससे भी पूछताछ के लिए दिल्ली पहुंच रही है। आरोप है कि लॉरेंस बिश्नोई ने कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ के जरिए इस घटना को अंजाम दिया है। इस बीच मंगलवार को सिदधू मूसेवाला का अंतिम संस्कार हुआ, जिसमें बड़ी संख्या में लोग जुटे।

गोल्डी बराड़ ने सिदधू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी भी ली है। उसके बाद से ही गैंगेस्टर लॉरेंस बिश्नोई अपने एनकाउंडर का अंदेशा जता रहा है। उसने एनआईए की अदालत में एक याचिका दी थी और अब उसने अपने एनकाउंटर की आशंका जताते हुए मंगलवार को दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका लगाई। इसमें उसने मांग की है कि पंजाब पुलिस को उसकी कस्टडी न दी जाए क्योंकि वहां उसका फर्जी एनकाउंटर हो सकता है।

जानकार सूत्रों के मुताबिक, सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद पंजाब पुलिस की ओर से बनाई गई विशेष जांच टीम, एससआईटी की शुरुआती जांच में सामने आया कि मूसेवाला की हत्या की पूरी प्लानिंग तिहाड़ जेल में की गई। यह प्लानिंग गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने की जो पंजाब में ही फजिल्का का रहने वाला है। मूसेवाला की हत्या के बाद सोशल मीडिया पर लॉरेंस गैंग के एक पेज पर इसकी जिम्मेदारी भी ली गई। लॉरेंस गैंग की ओर से कहा गया कि लॉरेंस और उसका साथी गोल्डी बराड़ सिद्धू मूसेवाला के मर्डर की जिम्मेदारी लेते हैं। गोल्डी बराड़ इस समय कनाडा में है।