EVTRIC Motors reaches 100 dealerships across India, this record was made in just 6 months

0
47

इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी EVTRIC Motors देश भर में तेजी से होनी पहुंच बढ़ा रही है पिछले 6 महीनों में कंपनी ने इंडिया में 100 से ज्यादा डीलरशिप खोली है उनकी 2022 के अंत तक अपने डीलरशिप नेटवर्क को 110 से 350 तक विस्तारित करने की स्किम है दूसरे चरण में पूर्वी भारत और दक्षिण भारतीय राज्यों के माध्यम से और अधिक विस्तार करने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा 

EVTRIC
वर्तमान समय में EVTRIC स्कूटर राजस्थान ,पंजाब ,UP ,महारष्ट्र गुजरात कर्नाटक तेलंगाना केरल पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों में उपलब्ध है इनमे से महाराष्ट्र और कर्नाटक दो ऐसे राज्य है जो EVTRIC मोटर्स की अधिकतम बिक्री और उनकी सफलता की कहानी में योगदान करते है टियर II और टियर III मार्किट में और यहां तक की देश के ज्यादातर अधिकांश आंतरिक हिस्सों में भी इस ब्रांड के डीलरशिप की काफी उपस्थिति है यह मेट्रो शहरों से इतर शहरों जैसे आगरा ,अलीगढ बनारस बीकानेर सूरत आदि में अपनी मौजूदगी को दर्शाता है 
EVTRIC मोटर्स के संस्थापक और एमडी मनोज पाटिल ने कहा कोविड -19 महामारी द्वारा विश्व स्तर पर इंटीग्रेटेड ऑटोमेटिव उद्योग को ब्रेक लगाने के लिए मजबूर करने के बावजूद हमारे ब्रांड ने अपने एम्पलॉयस के ईमानदार प्रयासों से धीरे -धीरे इंडिया के लगभग हर महत्वपूर्ण राज्य और शहरों में एक मजबूत नेटवर्क बना है 

EVTRIC
ब्रांड 7 अलग -अलग टु -व्हीलर्स को स्लीक डिजाइन और अत्याधुनिक तकनीक के साथ लॉन्च कर रहा है जो अपने कस्टमर्स की विभिन्न जरूरतों को पूरा करते है EVTRIC स्कूटरों को अपने गुणवत्ता पूर्ण उत्पाद के लिए कस्टमर्स का विश्वास मिल रहा है क्योकि ब्रांड के पास इन हॉउस रोबोटिक बिल्डिंग निर्माण और इंडिया में 100 % मेक इन इंडिया उत्पाद बनाने की राह पर है 
वर्ष 2022 के आखिर तक अपनी प्रतिबद्ता के परीक्षण के रूप में EVTRIC मोटर्स दूसरे चरण में पूर्वी इंडिया और दक्षिण इंडियन राज्यों में और अधिक विस्तार करने के लिए विशेष ध्यान देने के साथ पुरे इंडिया में 110 से 350 डीलर करने में अपने लक्ष्य में तेजी लेन की राह पर है 
EVRIC मोटर्स अपने पंख फैला रहा है क्योकि तेल की रेटों में उतर चढ़ाव से इलेक्ट्रिक वाहनों की मार्किट में हिस्सेदारी बढ़ रही है कंपनी का कहना है की उसके उत्पाद न सिर्फ iCAT द्वारा स्वीकृत है बल्कि एक ऐसे युग में जब कस्टममर्स का ध्यान मेक इन इंडिया पर वापस आ गया है कंपनी इसे पूरा करने का वादा करती है