HomeHealthConsidering it to be healthy, the brown rice you use carelessly, know...

Considering it to be healthy, the brown rice you use carelessly, know their side effects here

ब्राउन राईस को नियमित चावल  के लिए एक स्वस्थ विकल्प के रूप में देखा जाता है इसका मुख्य कारण इसे  संशोधित करने का तरीका जब चावल प्रोसैस्ड हो जाता है तो चोकर और गुड बैक्टीरिया हटा दिए जाते हैं जबकि ब्राउन चावल में सब बना रहता है चोकर और  गुड बैक्टीरिया को पौष्टिक गुणों के लिए जाना जाता है और फाइबर से भरपूर होते हैं इसलिए ब्राउन राईस स्वस्थ विकल्प के रूप में सामने आता है और कई स्वास्थ्य लाभों से जुड़े रहते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं इसके कुछ नुकशान भी होते हैं। 

brau

एनसीबीआई के रिसर्च के अनुसार ब्राउन राइस खाने का एक बड़ा साइड इफेक्ट है इसमें मौजूदफाइटिक एसिड नामक एंटी-न्यूट्रीएंट बड़ी मात्रा में पाया जाना यह एंटी न्यूट्रिएंट तत्व एक ऐसा  कम्पोजिशन है जो कई अलग-अलग पोधो से बने उत्पादों में पाया जाता है और हमारे शरीर को खाद्य पदार्थों से मिलने वाले कुछ पोषक तत्व प्राप्त करने से रोक सकता है। 

braun

 ज्यादा फाइबर का इस्तेमाल आपके पाचन के लिए सही नहीं है  और समस्याएं पैदा कर सकते हैं ब्राउन राइस में चोकर   वरोगाणु  बरकरार होते हैं वह जो इसी फाइबर रिच बनाने के लिए जिम्मेदार हैं  चोकर  और रोगाणु पाचन तंत्र को भी डिस्टर्ब कर सकते हैं जिससे पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती है। 

brown
ज्यादातर  अनाज आर्सेनिक  के संपर्क में आते हैं जो मिट्टी और पानी में पाया जाने वाला एक तत्व है और जब इसके संपर्क में आते हैं तो आप गंभीर स्थिति से पीड़ित हो सकते हैं ब्राउन राइस में अधिकांश अन्य अनाजों की तुलना में अधिक आर्सेनिक  होता है इसलिए परिस्थितियों से प्रभावित होने का खतरा बढ़ जाता है आर्सेनिक की थोड़ी मात्रा भी की थोड़ी मात्रा भी कैंसर, हृदय रोग और टाइप 2 मधुमेह के खतरे को बढ़ा सकती है। 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments