Canara Bank और Central Bank of India में है खाता तो जारी हुआ नया अपडेट, पैसो से जुड़ा है पूरा मामला, तुरंत जाने

यदि केनरा बैंक (Canara Bank) और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) में खाता है तो ये खबर आपको जरूर पढ़ना चाहिए. जानकारी के मुताबिक हाल ही में दोनों बैंक ने अपना तिमाही आकड़ा जारी किया है. तिमाही आकड़े में पैसे से जुड़ा पूरा मामला है. अगर आपका इन बैंको में अकाउंट है तो ग्राहक होने के नाते आपका हक़ बनता है की आपको बैंक से जुडी हर चीज़ो की जानकारी हो. दोनों ही बैंकों ने इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में मुनाफा दर्ज किया है. केनरा बैंक का पहली तिमाही का शुद्ध लाभ 72 प्रतिशत बढ़ा है. वहीं सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का पहली तिमाही का शुद्ध लाभ 14.2 प्रतिशत बढ़ा है.

फंसे कर्ज में कमी और आमदनी बढ़ने से सार्वजनिक क्षेत्र के केनरा बैंक का एकल आधार पर शुद्ध लाभ जून तिमाही में 72 प्रतिशत बढ़कर 2,022.03 करोड़ रुपये हो गया है. एक साल पहले जून तिमाही में बैंक को 1,177.47 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था.

केनरा बैंक ने शेयर बाजारों को बताया कि अप्रैल-जून 2022-23 में उसकी कुल आय बढ़कर 23,351.96 करोड़ रुपये हो गई जो एक साल पहले समान अवधि में 20,940.28 करोड़ रुपये थी.

समीक्षाधीन तिमाही में ब्याज से प्राप्त मूल आय 8.3 प्रतिशत बढ़कर 18,176.64 करोड़ रुपये हो गई. बैंक की परिसंपत्ति की गुणवत्ता के मामले में भी सुधार देखने को मिला है. 30 जून, 2022 के अंत तक बैंक का एनपीए कम होकर कुल ऋण का 6.98 प्रतिशत रह गईं. जून, 2021 में यह आंकड़ा 8.50 प्रतिशत था. मूल्य के संदर्भ में देखा जाए तो बैंक का सकल एनपीए या फंसा कर्ज कम होकर 54,733.88 करोड़ रुपये रहा है जो पिछले वर्ष समान अवधि में 58,215.46 करोड़ रुपये था.

इसी तरह बैंक का शुद्ध एनपीए भी पिछले वर्ष की समान अवधि के 3.46 प्रतिशत (22,434 करोड़ रुपये) से घटकर 2.48 फीसदी (18,504.93 करोड़ रुपये) रहा है. पहली तिमाही में बैंक का डूबे कर्ज और अन्य आकस्मिक खर्च के लिए प्रावधान (कर के अतिरिक्त) बढ़कर 3,690 करोड़ रुपये हो गया, जो पिछले वर्ष की समान तिमाही में 3,458.74 करोड़ रुपये था. एकीकृत आधार पर जून तिमाही में बैंक का शुद्ध मुनाफा 88 फीसदी बढ़कर 2,058.31 करोड़ रुपये रहा है. एक साल पहले समान अवधि में यह 1,094.79 करोड़ रुपये था. तिमाही के दौरान बैंक की एकीकृत आय पिछले वर्ष के 23,018.96 करोड़ रुपये से बढ़कर 23,739.27 करोड़ रुपये हो गई.

वहीं सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही का एकल शुद्ध लाभ 14.2 प्रतिशत बढ़कर 234.78 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ने इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 205.58 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. हालांकि, पिछली मार्च तिमाही से तुलना की जाए, तो बैंक के मुनाफे में 24.3 प्रतिशत की गिरावट आई है. मार्च तिमाही में बैंक ने 310.31 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था. अप्रैल-जून की तिमाही में बैंक की कुल आय मामूली बढ़कर 6,357.48 करोड़ रुपये पर पहुंच गई.

इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक की आमदनी 6,299.63 करोड़ रुपये रही थी. हालांकि, मार्च तिमाही की तुलना में बैंक की कुल आय में गिरावट आई है. मार्च तिमाही में बैंक की कुल आय 6,419.58 करोड़ रुपये रही थी. जून तिमाही के अंत तक बैंक का कुल ऋण पर डूबे कर्ज के लिए प्रावधान घटकर 14.90 प्रतिशत रह गया, जो एक साल पहले समान अवधि में 15.92 प्रतिशत था.