Agricultural Machinery: पराली मैनेजमेंट मशीन पर 80 प्रतिशत का अनुदान, किसान समूह लें लाभ

Subsidy On Agricultural Machinery: धान रोपाई का समय चल रहा है। किसान धान का रोपा लगाने में मस्त हैं। धान कटाई का समय अभी भले ही दूर है लेकिन हरियाणा सरकार (Hariyana Government) पराली मैनेजमेंट में अभी से लगी हुई है। इस बार सरकार का पूरा प्रयास है कि कोई भी किसान पराली जलाने के बजाय मशीन के माध्यम से उसका निस्तारण करें। इसके लिए सरकार ने किसानों को एक फायदे का आफर दिया है। हरियाणा सरकार का कहना है कि अगर किसान पराली मैनेजमेंट (Parali Management) मशीन खरीदता है तो उसे अनुदान दिया जायेगा।

किसे कितना मिलेगा लाभ

बताया गया है कि अक्सर धान की कटाई के बाद खेत में बचे धान के पेड़ो को किसान जलाकर खेत की सफाई करते है। यह सफाई आग लगाकर की जाती है। जिससे बहुत ज्यादा प्रदूषण फैलता है। अब सरकार ने पराली मैनेजमेंट मशीनरी (Parali Management Machinery) के माध्यम से खेतों को सफाई करने की व्यवस्था कर दी है। इस मशीन का किसान उपयोग ज्यादा करें इसके लिए अनुदान दिया जा रहा है।

नियम के मुताबिक अगर इस मशीन को किसान निजी उपयोग के लिए खरीद रहा है तो उसे 50 प्रतिशत का अनुदान मिलेगा। वहीं अगर इस मशीन को सहकारी समिति, एफपीओ, पजीकृत किसान समिति या फिर पंचायत द्वारा खरीदा जाता है तो 80 प्रतिशत की छूट दी जायेगी।

आवेदन का समय

बताया गया है छूट पर पराली मैनेजमेंट मशीन खरीदी के लिए आनलाइन आवेदन मगां रही है। आनलाइन आवेदन करने की आखिरी तारीख 25 अगस्त 2022 है। किसानों का चयन जिले के जिला उपायुक्त की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय कर्यकारिणी समिति द्वारा किया जायेगा।

किसान या समिति का चयन होने के बाद वह मशीन बनाने वाली कम्पनी से मशीन देखकर उससे मोल-भाव कर सकते हैं। हरियाणा सरकार हर हाल में चाहती है कि इस वर्ष किसान पराली जलाने के बजाय मशीन से उसका निस्तारण करें।