8 महीने की कोचिंग में 6 कप्तानों के साथ काम करना चुनौती भरा था, राहुल द्रविड़ ने बताई अपनी मन की बात

0
18

इंडियन टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने हाल ही में की गयी बातचीत में पिछले कुछ महीनों में 6 कप्तानो के हाथ में टीम की कमान सौपनें के सवाल पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. द्रविड़ को इंडियन टीम के कोच बने लगभग 8 महीने हुए है और उन्होंने मन की इतने कम समय में अलग अलग मौकें पर अलग अलग कप्तानों के साथ काम करना आसान नहीं है और ना ही उन्होंने ऐसा सोचा था. पर इसके बाद उनके अनुसार खिलाडियों के लिए काफी अच्छे मौके बने और टीम लीड करने का भी अनुभव मिला.

Rahul Dravid ने कहा, इतना बदलवा चुनौती भरा रहा

Rahul Dravid

द्रविड़ (Rahul Dravid) ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांचवें टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच शुरू होने से पहले कहा, ‘यह चुनौतीपूर्ण भी रहा है, हमने अंतिम आठ महीनों में छह कप्तान उतारे, जो वास्तव में योजना नहीं थी. लेकिन हम जितने मैच खेल रहे हैं, यह उसकी वजह से हुआ है.’ द्रविड़ (Rahul Dravid) ने माना कि कभी कभी ऐसे समय पर आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. उन्होंने आगे कहा,“कोविड-19 के कारण मुझे कुछ लोगों के साथ काम करना पड़ा जो शानदार रहा. कई खिलाड़ियों को टीम की अगुआई का मौका मिला, हमें ग्रुप में और ‘कप्तान’ तैयार करने का मौका मिला.

दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट और वनडे श्रृंखला को हारना काफी निराशाजक रहा है और टीम मैनेजमेंट इस हार से सीखते हुए खुद को बेहतर बनाने पर काम कर रही है. उन्होंने कहा, ‘हम लगातार बेहतर करने की कोशिश करते हैं, हमने विभिन्न लोगों के साथ काफी कोशिश की. पिछले आठ महीनों में दक्षिण अफ्रीका का दौरा टेस्ट क्रिकेट के लिहाज से थोड़ा निराशाजनक रहा.”

दिनेश कार्तिक ने की शानदार वापसी

8 महीने की कोचिंग में 6 कप्तानों के साथ काम करना चुनौती भरा था, राहुल द्रविड़ ने बताई अपनी मन की बात

राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने दिनेश कार्तिक और हार्दिक पंड्या के बारे में भी अपनी बात कही. उन्होंने कहा दोनो ही खिलाडियों ने इस साल आईपीएल में शानदार प्रदर्शन किया है. दिनेश पिछले एक दो साल से जी तरह की बल्लेबाज़ी कर रहे है वो टीम में अपनी जगह पूरी तरह से बनाने के हकदार है. इसे साथ ही हार्दिक पंड्या आखरी ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी के लिए सबसे बेहतरीन खिलाडियों में से एक साबित हो रहे है. ये दोनों ही खिलाडी अपने दम पर रन गति तेज़ करने के साथ-साथ मैच का रुख भी पलट सकते है और ऐसा करना जरा भी आसान नहीं होता है.

युवाओं के पास है काफी मौका

8 महीने की कोचिंग में 6 कप्तानों के साथ काम करना चुनौती भरा था, राहुल द्रविड़ ने बताई अपनी मन की बात

राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने आगे कहा है की किसी भी सीरीज के लिए सिर्फ 15 खिलाडियों का ही चयन किया जा सकता है लेकिन इस समय के प्रदर्शन को देखते हुए हमारी नज़र में 18 से 20 खिलाडी है जिनको हम वर्ल्ड कप के लिए चुन सकते है. और अगर कोई भी खिलाडी उपलब्ध नहीं होता है वो हमारे पर अन्य विकल्प भी मौजूद है. वर्ल्ड कप से पहले लगभग 13 टी20 मैच भारतीय टीम को खेलने के और सभी में अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाडी की टीम में जगह पक्की होगी.

और पढ़िए:

Nadeem Iqbal के ऊपर लगे यौन शोषण के आरोप, एक बार फिर शर्मसार हुआ पाकिस्तान क्रिकेट

आशीष नेहरा ने अपनी ही टीम के खिलाडी के खिलाफ दिया ये बयान, बोले वर्ल्डकप प्लान में नहीं है शामिल

Team India के वो तीन खिलाडी जिन्हें सिर्फ एक टेस्ट मैच में मिली टीम की कमान, एक ने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ जीता था मैच