5G नेटवर्क को लेकर Airtel ने कही ये बात, जान लें क्या कहा सुनिल मित्तल ने..

0
13

Airtel 5G : 5G सर्विस को लेकर देश भर में चर्चाएं चल रही है. 5G की बेहतर सुविधा के लिए अभी टेलीकॉम कंपनियां काम कर रही हैं, जिनमें एयरटेल भी शामिल है. दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील मित्तल ने कहा कि कंपनी अपने शक्तिशाली नेटवर्क के साथ देश में 5जी कनेक्टिविटी को लाने में भारत की डिजिटल-फर्स्ट अर्थव्यवस्था को समर्थन देने के लिए सबसे आगे रहेगी. अगले कुछ दिनों देश में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी होने वाली है। ऐसे में मित्तल की यह टिप्पणी काफ़ी महत्वपूर्ण है.

26 जुलाई को 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू होगी. इनमें नीलामी के लिए कम से कम 4.3 लाख करोड़ रुपये के कुल 72 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम को रखा जाएगा. इससे पहले शुक्रवार और शनिवार को दूरसंचार विभाग मॉक ड्रिल का आयोजन करेगा. भारती एयरटेल की वार्षिक रिपोर्ट 2021-22 में सुनील मित्तल ने कहा कि एयरटेल कम्पनी भारत में 5जी कनेक्टिविटी लाने में अपने शक्तिशाली नेटवर्क के साथ सबसे आगे रहेगी और इससे भारत की डिजिटल-फर्स्ट अर्थव्यवस्था को भी समर्थन मिलेगा.

मित्तल ने कहा कि एयरटेल ने नेटवर्क के परीक्षण के जरिए 5जी क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा से पहले ही बढ़त बना ली थी. यह पहली कंपनी है जिसने भारत में 5जी क्लाउड गेमिंग अनुभव का प्रदर्शन किया और 700 मेगाहर्ट्ज के बैंड का ग्रामीण कनेक्टिविटी के लिए सफल परीक्षण किया. एयरटेल के प्रबंध निदेशक गोपाल विट्टल ने कहा कि 5जी के लिए कंपनी पूरी तरह से तैयार है.

आपको बता दें कि हाल ही में अडाणी ग्रुप ने दूरसंचार स्पेक्ट्रम हासिल करने की दौड़ में शामिल होने की पुष्टि की है. साथ ही कहा कि वह हवाई अड्डों से लेकर अपने व्यवसायों का समर्थन करने के लिए दूरसंचार स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल एक निजी नेटवर्क के रूप में करेगा. बयान में कहा कि हम हवाईअड्डों, बिजली उत्पादन, पारेषण, बंदरगाहों और लॉजिस्टिक, वितरण और विभिन्न विनिर्माण कार्यों में बढ़ी हुई साइबर सुरक्षा के साथ ही निजी नेटवर्क समाधान मुहैया कराने के लिए 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी में हिस्सा ले रहे हैं.