15 दिन पहले राहुल गांधी ने भेजा मेसेज जब फ्री होंगे तो करेंगे कॉल बोले हार्दिक पटेल

0
97





नई दिल्ली । गुजरात में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक गलियारों में कई तरह कि चर्चाएं हो रही हैं। इनमें से ही एक है हार्दिक पटेल की पार्टी में नाराजगी और उनके भाजपा में शामिल होने के कयास। हालांकि  हार्दिक पटेल ने इन कयासों को केवल अफवाह बताया है। उन्होंने कहा कि उनकी जो भी शिकायतें हैं वह पार्टी का अंदरूनी मामला है और जल्द ही उनका हल निकल आएगा। राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी का नाम लेते हुए उन्होंने कहा कि उनके साथ किसी भी तरह की अनबन नहीं है।

पटेल ने कहा कि राहुल गांधी ने उन्हें लगभग 15 दिन पहले मेसेज किया था और पूछा था कि जो भी मामला है बिना झिझक के उन्हें बताएं। हालांकि इसके बाद हाई कमांड से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। पटेल ने कहा, वह हाल ही में गुजरात आए थे लेकिन काफी बिजी थे। जब भी वह फ्री होंगे मुझे कॉल करेंगे। गुजरात दौरे के दौरान व्यक्तिगत रूप से राहुल गांधी से न मिलने पर हार्दिक पटेल ने कहा कि पांच घंटे के अंदर ही उन्हें  बहुत सारे नेताओं से मिलना था और उनके पास समय बहुत कम था। उन्होंने कहा, मेरा दिल्ली में कोई गॉडफादर नहीं है जो कि मदद कर सके। मुझे अपने मूल्यों पर काम करना है।

उन्होंने उम्मीद जताई की पार्टी के चिंतन शिविर में गुजरात के मुद्दों पर ध्यान दिया जाएगा। भाजपा सरकार द्वारा उनपर लगे केस वापस लिए जाने पर हार्दिक पटेल ने कहा, ये सब  चुनाव को ध्यान में रखकर केवल राजनीति की जा रही है। गुजरात में पाटीदार बहुत मजबूत हैं और सैकड़ों लोगों पर चल रहे केस वापस लिए गए हैं। उन्होंने कहा, हम दूसरी तरह के राजनेता हैं क्योंकि हम किसी राजनीतिक परिवार से नहीं आते हैं। हमने अपनी पहचान बनाने के लिए बहुत मेहनत की है। हम कोई भी पद पाने के लिए लीडरशिप पर दबाव नहीं बनाना चाहते हैं।







Previous articleभूमि पर अवैध कब्जा मामले में बाहुबली मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा को राहत नहीं, याचिका खारिज
Next articleउम्मीद से कम रहा गेहूं का उत्पादन, निर्यात बढ़ा, आटे से ब्रेड तक होगी महंगी