सपा जिलाध्यक्ष पर कार्यालय की सफाई कर्मी ने लगाया बड़ा आरोप..

0
22

Advertisement

हरदोई, अमृत विचार । सपा कार्यालय में साफ-सफाई करने वाली महिला ने पार्टी के जिलाध्यक्ष और उपाध्यक्ष को गंदी नियत वाला बताते हुए आरोप लगाया है कि उनकी बात न मानने पर उसे नौकरी से निकाल दिया गया। जबकि जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा जीतू का कहना है कि लगाए गए आरोप बेबुनियाद है। उन्होंने कुछ किया नहीं, तो डरते भी नहीं हैं।

Advertisement

सपा कार्यालय में एक 40 वर्षीय महिला करीब सात सालों से साफ-सफाई का काम करती थी। महिला का आरोप है कि जिलाध्यक्ष की नियत गंदी थी। उन्होंने उससे घर पर काम करने को कहा, आरोप तो यहां तक लगाया है कि जिलाध्यक्ष और उपाध्यक्ष उसके साथ गंदी हरकत करना चाहते थे,बात न मानने पर उसे नौकरी से निकाल दिया गया। उसने आगे कहा कि पार्टी कार्यालय में उसका उत्पीड़न ही नहीं हुआ,बल्कि गाली-गलौज तक की गई।

Advertisement

इतना ही नहीं उसका कार्यालय में रखा सारा सामान भी नहीं दिया जा रहा हैं। महिला का कहना है कि वह डिंपल यादव और पुलिस से भी इंसाफ की भीख मांग चुकी है, लेकिन किसी ने नहीं सुनी। महिला इंसाफ के लिए सपा कार्यालय के सामने चारपाई डाल कर डटी हुई है। इस बारे में सपा जिलाध्यक्ष जितेंद्र वर्मा जीतू का कहना है कि सारे आरोप बेबुनियाद है। महिला सही ढंग से काम नहीं करती थी। साथ उसकी बातचीत का लहजा भी काफी बिगड़ गया था। उन्होंने कहा कि जब उन्होंने ऐसा कुछ किया नहीं,तो डरने की भी कोई बात नहीं है।

यह भी पढ़ें –बहराइच : जेसीबी चालक की लापरवाही से रेलवे लाइन की सिग्नल केबल कटी, अचानक रुकी ट्रेन

Advertisement