HomeRegionalरेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग की नयी उपलब्धि, एम.डी. की..

रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग की नयी उपलब्धि, एम.डी. की..

Advertisement

लखनऊ, अमृत विचार । केजीएमयू के रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग में एमडी की सीटें बढ़ा दी गयी हैं। अब यहां पर कुल एमडी की सीटें बढ़कर 15 हो गयी हैं। इसका आदेश पांच अगस्त को नेशनल मेडिकल कमीशन ने जारी कर दिया है।

Advertisement

दरअसल,नेशनल मेडिकल कमीशन ने हालही में केजीएमयू के रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग का निरीक्षण किया था।

Advertisement

आज से करीब 11 साल पहले जब डॉ. सूर्यकान्त ने 5 अगस्त 2011 को इस विभाग के एचओडी के रूप में पदभार ग्रहण किया था, उस समय रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग में कुल 5 एम.डी. की सीटे थीं। इस प्रकार 11 वर्षों में ये सीटे 3 गुना बढ़ कर 5 से 15 हो गयी हैं।

यह संयोग की बात थी, कि जहां विभाग, विभागाध्यक्ष के 11 साल के कार्यकाल पूर्ण होने पर खुशियां मना रहा था, वही इस खबर के आने से यह खुशी और बढ़ गयी। डॉ. सूर्यकान्त ने एन.एम.सी. के निरीक्षण में पूर्ण सहयोग देने के लिए सभी चिकित्सकों एवं कर्मचारियों का धन्यवाद किया। डॉ.सूर्यकान्त ने बताया कि बढ़ता हुआ वायु प्रदूषण, धूम्रपान, कोविड इत्यादि के कारण उत्तर प्रदेश में सांस के रोगी दिन प्रतिदिन बढ़ रहे हैं, इन सीटों के बढ़ने से रोगियों का बेहतर ईलाज किया जा सकेगा। साथ ही साथ जूनियर डाक्टरों का बोझ कम होगा और वे गुणवत्ता परक ईलाज कर सकेगें। इन उपलब्धियों के लिए केजीएमयू के कुलपति लेफ्टिनेंट जनरल डॉ. बिपिन पुरी ने विभाग की भूरि-भूरि प्रशंसा की तथा डॉ. सूर्यकान्त को बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

यह भी पढ़ें –दीपिका पादुकोण ने डिप्रेशन के दिनों को किया याद, बोलीं- ‘कई बार आए आत्महत्या के ख्याल’

Advertisement

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments