Saturday, June 25, 2022
HomeSportsरूमेली धर ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास, सफल कप्तानों...

रूमेली धर ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास, सफल कप्तानों में होगी गिनती…

मुंबई | Rumeli Retirement Cricket : भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान रूमेली धर ने बुधवार को खेल के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है. दाएं हाथ की बल्लेबाज और तेज गेंदबाज रूमेली ने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए अपने फैसले की घोषणा की. रूमेली ने अपनी पोस्ट में कहा कि पश्चिम बंगाल के श्यामनगर से शुरू हुआ क्रिकेट का मेरा 23 साल का सफर अंतत: खत्म हो रहा है, मैं क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा करती हूं. इसके बाद सोशल मीडिया में लोगों ने उनके आने वाले जीवन के लिए शुभकामानाएं देनी शुरू कर दी. लोगों ने उनके शानदाऱ प्रदर्शन को याद करते हुए उनके भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं.

Rumeli Dhar
Source : Cric Sports

शानदार रहा करियर

Rumeli Retirement Cricket : करियर की बात करें तो रूमेली ने चार महिला टेस्ट में एक अर्धशतक की मदद से 236 रन बनाए हैं. नयी दिल्ली में 2005 में इंग्लैंड के खिलाफ पदार्पण करने वाली 38 साल की रूमेली ने आठ टेस्ट विकेट चटकाए. उन्होंने अपना अंतिम टेस्ट 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ ही खेला था. रूमेली ने 78 महिला एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में 961 रन बनाने के अलावा 63 विकेट झटके. रूमेली ने 2003 में इंग्लैंड के खिलाफ लिंकन में पदार्पण करने के बाद छह अर्धशतक जड़े. उन्होंने अपना अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मुकाबला 2012 में खेला था.

इसे भी पढें- कोरोना संक्रमित होने के बाद भी Virat Kohli टीम इंडिया को खतरे में डाला

विश्वकप 2005 के फाइनल में पहुंचाया था टीम को

Rumeli Retirement Cricket : बंगाल सहित अन्य घरेलू टीम की ओर से खेलने वाली रूमेली ने 18 टी20 मुकाबले भी खेले. इसमें उन्होंने 131 रन बनाने के अलावा 13 विकेट भी चटकाए. उन्होंने 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ पदार्पण किया. रूमेली ने 2018 में 34 साल की उम्र में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत की टी20 टीम में वापसी की और उसी साल ब्रेबोर्न स्टेडियम में आस्ट्रेलिया की महिला टीम के खिलाफ अपना अंतिम टी20 मैच खेला. रूमेली 2005 में दक्षिण अफ्रीका में महिला एकदिवसीय विश्व कप के फाइनल में पहुंची भारतीय टीम की सदस्य भी थी.जीवन की सबसे अच्छा समय उन्होंने भारतीय महिला क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए गुजारा जो 2005 में विश्व कप फाइनल में भी अपनी टीम को पहुंचाने में कामयाब हुई थी. रूमेली ने वादा किया कि वह खेल से जुड़ी रहेंगी और देश में युवा प्रतिभाओं को निखारने में मदद करेंगी.

इसे भी पढें- फ्रांस में सियासी उलटफेर

RELATED ARTICLES
- Advertisment -