‘मैं देश के लिए गोल्ड लेने आई थी…’, सिल्वर मेडल जीत सुशीला देवी ने किया खुलासा

0
22


Advertisement

बर्मिंघम। इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेले जा रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है। सोमवार को 27 साल की जूडो खिलाड़ी सुशीला देवी ने सिल्वर मेडल जीता। मणिपुर पुलिस में सब-इंस्पेक्टर के पद पर भी तैनात सुशीला देवी का कॉमनवेल्थ गेम्स में यह दूसरा मेडल है, 2014 के कॉमनवेल्थ में भी सुशीला ने सिल्वर मेडल ही जीता था। इस बार सुशीला देवी गोल्ड मेडल लेने आई थीं, लेकिन फाइनल में चोट के कारण उन्हें सिल्वर से ही संतोष करना पड़ा। इसका खुलासा उन्होंने खुद किया है।

Advertisement

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सुशीला देवी ने कहा, ‘मैं कॉमनवेल्थ गेम्स में देश के लिए गोल्ड मेडल लेने का मन बनाकर आई थी। 2014 में मैंने सिल्वर जीता था। तब से अब तक मुझे काफी अनुभव भी मिला है। मैं इसका फायदा लेना चाहती थी, लेकिन मैं चोटिल थी। मैंने चोट को दिमाग में रखा ही नहीं था। मैं सिर्फ गोल्ड जीतना चाहती थी। फाइनल में दोनों ही प्लेयर जीतना चाहते हैं। मुझमे कुछ कमी रही होगी, इस वजह से चूक गई।

सुशीला देवी ने कहा, ‘मैंने अपने जीवन में काफी चैलेंज लिए हैं। मैं अपनी कमियों को पूरा करना चाहती थी और मेरा परिवार काफी कमजोर रहा है। उसे भी ठीक करना चाहती थी। जूडो में खासकर बाहर से मेडल लाना मुश्किल रहता है। इस वजह से मैं इस खेल में मेडल लाना चाहती थी। बता दें कि सुशीला चोट के कारण फाइनल में पट्टी बांधकर उतरी थीं।

ये भी पढ़ें : Commonwealth Games 2022 : कॉमनवेल्थ में आज भारत के पास 9 मेडल जीतने का मौका, देखें पांचवें दिन का पूरा शेड्यूल

Advertisement





Source link