मुंबई इंडियन्स ने सीएसके को धोया, 8वीं बार हारकर धोनी की टीम ने बनाया शर्मनाक रिकार्ड, दूसरी बार प्लेऑफ की रेस से बाहर

0
47





मुंबई । क्रिकेट लीजेंड एमएस धोनी शायद आईपीएल 2022 को याद नहीं रखना चाहेंगे। सीएसके को टी20 लीग के एक मुकाबले में मुंबई इंडियंस ने 5 विकेट से हरा दिया। यह टीम की 8वीं हार है। इसी के साथ धोनी की अगुआई वाली सीएसके की टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर हो गई है। आईपीएल के इतिहास में टीम दूसरी बार प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकी। इससे पहले 2020 में भी टीम का प्रदर्शन खराब रहा था।

मैच में सीएसके की टीम पहले खेलते हुए 16 ओवर में सिर्फ 97 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। टीम के 7 खिलाड़ी दहाई के आंकड़े को नहीं छू सके। जवाब में मुंबई ने लक्ष्य को 14.5 ओवर में 5 विकेट पर हासिल कर लिया। मुंबई इंडियंस टी20 लीग के 15वें सीजन के अपने शुरुआती आठों मैच हारकर पहले ही प्लेऑफ की रेस से बाहर हो चुकी है। मुंबई इंडियंस और चेन्नई की टीमें एक साथ 13 सीजन में उतरीं। यह पहला सीजन है, जब दोनों ही टीमें प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकीं। यानी इन दोनों टीमों ने एक शर्मनाक रिकॉर्ड बनाया।

मुंबई आईपीएल इतिहास की सबसे सफल टीम है। उसने 5 बार खिताब जीता है। वहीं चेन्नई की टीम 4 खिताब के साथ दूसरे नंबर पर है। चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम 2016 और 2017 में आईपीएल में नहीं उतर सकी थी। स्पाट फिक्सिंग के कारण उस पर बैन लगा था। 2016 में भी मुंबई की टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकी थी। हालांकि उस सीजन में सीएसके की टीम नहीं उतरी थी। इन दोनों दिग्गज टीम के बाहर होने से टी20 लीग में नए चैंपियन की आस बढ़ गई है। अंतिम बार 2016 में आईपीएल में नया चैंपियन देखने को मिला था। तब सनराइजर्स हैदराबाद ने फाइनल में आरसीबी को 8 रन से मात दी थी।

टी20 लीग के मौजूदा सीजन में 10 टीमें उतर रही हैं। गुजरात टाइटंस और लखनऊ सुपर जायंट्स को पहली बार मौका मिला है। गुजरात की टीम प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई है। अन्य 3 जगह के लिए 7 टीमों में भिड़त है। लखनऊ की टीम 8 जीत के साथ दूसरे नंबर पर है। टीम अपने बचे 2 में से एक भी मैच में जीत हासिल कर लेती है, तो नॉकआउट राउंड के लिए डायरेक्ट क्वालिफाई कर लेगी। राजस्थान रॉयल्स और आरसीबी दोनों के 12-12 अंक हैं।







Previous articleअपने समय के बेहतरीन खिलाड़ी हैं तिलक वर्मा, जल्द मिल सकता है टीम इंडिया में प्रवेश : रोहित शर्मा
Next articleऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान पेन घरेलू टीम से भी बाहर हुए