माननीय और जिम्मेदार के बीच यह कैसी गोपनीय बैठक…

0
43

पीलीभीत, अमृत विचार। किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए माननीय और जिम्मेदार के बीच आयोजित हुई बैठक में कई बड़े निर्णय के कयास लगाए जा  रहे थे। बैठक हुई भी लेकिन इसे गोपनीयता की भेंट चढ़ा दिया गया। कुछ चम्मचकारों को जरूर जगह दे दी गई। देर शाम तक इसे लेकर जब खुलासा न हुआ तो सवाल उठने लगे गए।

Advertisement

जनपद में किसानों की समस्याएं कम नहीं है। वर्तमान में किसानों की गन्ना भुगतान की दिक्कत किसी से छिपी नहीं है। एक माननीय और जिम्मेदार अपनी ओर से किये गए जनसुनवाई जैसे कामों को भी उजागर करने से नहीं चूकते हैं। अपने आप को सख्त दर्शाने से भी पीछे नहीं। हालांकि कई मामलों में अपनों को बचाने के लिए उनकी मेहरबानी भी जगजाहिर है।

शुक्रवार को सरकारी कार्यक्रम में दोनो के बीच बैठक की जानकारी दी गयी। इनमें यह कयास लगाए गए कि किसानों का कुछ भला हो सकेगा। मगर, दिन भर के इंतजार के बाद यह सब कयास झूठे साबित हो गए। खास बात रही कि दोनों के दिन भर के काम को बढ़ा चढ़ाकर गिनाने वाले उनके अपने ही अनजान थे।

ये भी पढ़ें-

बरेली: पुराने काम न कराने वाले ठेकेदारों को किया जाएगा डिबार