महा विकास आघाड़ी का कांग्रेस समर्थन करती रहेगी

0
15

मुंबई। शिवसेना के कद्दावर नेता एकनाथ शिंदे की बगावत के बीच महाराष्ट्र के लोक निर्माण मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने बृहस्पतिवार को कहा कि महा विकास आघाड़ी (एमवीए) को उनकी पार्टी का समर्थन जारी रहेगा तथा यह तय करने के लिए होटल नहीं, बल्कि विधानसभा उपयुक्त स्थान है कि सरकार बहुमत में है या अल्पमत में।

कैबिनेट मंत्री शिंदे की बगावत से करीब ढाई साल पुरानी एमवीए सरकार गंभीर संकट में आ गयी है। शिंदे ने शिवसेना के 37 विधायकों का समर्थन होने का दावा किया है। राज्य की राजनीतिक स्थिति पर बुलायी गयी कांग्रेस नेताओं की बैठक के बाद चव्हाण ने संवाददाताओं से कहा कि हमने भाजपा को (सत्ता में आने से) रोकने के लिए शिवसेना एवं राकांपा के साथ मिलकर एमवीए बनाया था। एमवीए के प्रति हमारा समर्थन जारी है।

मंत्री ने कहा कि शिवसेना नीत सरकार अल्पमत में आ गयी है या नहीं, इसका फैसला होटल में नहीं किया जा सकता और इसके लिए सदन का पटल ही उचित मंच है। शिवसेना के बागी विधायक भाजपा शासित राज्य असम के गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं। जब वरिष्ठ कांग्रेस नेता चव्हाण से पूछा गया कि क्या एमवीए विधानसभा में शक्ति परीक्षण के लिए तैयार है तो उन्होंने कहा कि इस संबंध में कोई भी फैसला सत्तारूढ़ गठबंधन के तीनों घटक दलों को मिलकर करना है। उससे पहले शिवसेना सांसद संजय राउत ने संकेत दिया था कि यदि बागी विधायक मुंबई लौट आते हैं एवं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बातचीत करते हैं तो उनकी पार्टी एमवीए से बाहर आने पर विचार कर सकती है।