Tuesday, June 28, 2022
HomeRegionalमंदिर निर्माण के लिए पत्थर ले जा रहा ट्राला दो फिट धंसा,...

मंदिर निर्माण के लिए पत्थर ले जा रहा ट्राला दो फिट धंसा, घंटों लगा रहा जाम

अयोध्या। श्रीराम जन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण के लिए पत्थर ले जा रहा एक ट्राला सड़क धंसने से दो फिट नीचे तक फंस गया। सड़क धंसने की यह घटना श्रीराम मंदिर मुख्य प्रवेश द्वार से करीब दो सौ मीटर पहले हुई। करीब 30 टन वजनी ट्राले के धंसी सड़क में फंसने से घंटों जाम लग रहा। इसे लेकर सड़क निर्माण की गुणवत्ता पर भी सवाल खड़ा हो गया है।

Advertisement

सोमवार को करीब सवा बारह बजे श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए ट्रालों में पत्थर ले जाए जा रहे थे। इस दौरान चार ट्राले तो गुजर गए, लेकिन पीछे आ रहा पांचवा ट्राला गुजरा तो सड़क बैठ गई, जिसके चलते ट्राले के पिछले चक्के उसी में फंस गए और ट्राला बाएं ओर बुरी तरह झुक गया। इसकी सूचना मिलते ही एलएंडटी के अधिकारी और कर्मी मौके पर पहुंचे। एलएंडटी ने तत्काल जेसीबी मंगाई और ट्राले से पत्थरों के कैच निकाले जाने का काम शुरू हुआ।

करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद पत्थरों के कैच बाहर निकाले जा सके। उसके बाद सड़क में फंसे ट्राले को हटाया जा सका। इस दौरान सड़क के दोनों ओर बैरीकेट लगा कर यातायात रोका गया, जिसके चलते दोनों ओर काफी लम्बा जाम लग गया। ट्राले के पलटने के अंदेशे से सड़क पर लोगों की आवाजाही रोकी गई। एलएंडटी अधिकारियों ने बताया कि ट्रालों से यह पत्थर बंगलुरू से लाए जा रहे हैं। रोजाना दस से 15 ट्राले गुजरते हैं कभी हादसा नहीं हुआ। बताया कि करीब तीस टन का एक ट्राला होता है।

सड़क का होल खोल रहा था निर्माण की पोल

सड़क जिस तरह धंसी थी नीचे तक तीन से चार फिट गहराई दिखाई दे रही थी। सड़क को नीचे से बांधने के लिए कोई मैटीरियल नहीं दिखाई दिया। अंदर तक होल को लेकर एलएंडटी कर्मियों ने भी दबी जुबान से निर्माण की गुणवत्ता को लेकर इशारा किया। कजियाना मोहल्ले के सामने करीब सौ मीटर के दायरे में धंसी सड़क कई जगह से क्षतिग्रस्त भी हो गई है।

पीडब्ल्यूडी बोला- पाइप लाइन के कारण धंसी सड़क

पीडब्ल्यूडी के अवर अभियंता अजय शुक्ला ने बताया कि नीचे नगर निगम के जलकल की पाइप लाइन से पानी रिसने के कारण सड़क धंसी थी। उन्होंने कहा निर्माण में कोई लापरवाही नहीं बरती गई है। बताया कि जलकल विभाग को सूचना दी गई है और विभाग ने मरम्मत शुरू करा दी है।

यह भी पढ़ें:-अयोध्या: शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने राममंदिर निर्माण कार्य का लिया जायजा

RELATED ARTICLES
- Advertisment -