भारत की नजरें हॉकी विश्व कप में चीन के खिलाफ जीत पर


एम्सटेलवीन (नीदरलैंड)। ओलंपिक कांस्य पदक विजेता इंग्लैंड के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ के दौरान रक्षात्मक खेल का शानदार नजारा पेश करने वाला भारत आक्रामक खेल की खामियों को दूर करके मंगलवार को यहां महिला हॉकी विश्व कप के अपने दूसरे मैच में चीन को हराकर पहली जीत दर्ज करने के लक्ष्य के साथ उतरेगा। कप्तान और गोलकीपर सविता पूनिया की अगुवाई में भारत ने शानदार रक्षात्मक खेल दिखाते हुए पूल बी के अपने पहले मैच में रविवार को इंग्लैंड को बराबरी पर रोका।

Advertisement

उप कप्तान दीप ग्रेस एक्का, निक्की प्रधान, गुरजीत कौर और उदिता जैसी खिलाड़ियों ने बेहतरीन खेल दिखाया जिससे इंग्लैंड की टीम 60 मिनट के खेल के दौरान एक भी पेनल्टी कॉर्नर हासिल नहीं कर सकी। टीम की एकमात्र चूक नौवें मिनट में इसाबेला पेटर का गोल रहा। इसे छोड़ दिया जाए तो भारत की रक्षा पंक्ति इंग्लैंड के प्रयासों को नाकाम रहे में सफल रही। सविता भी काफी चौकस दिखी और उन्होंने कुछ मौकों पर काफी अच्छा बचाव किया।

भारतीय टीम ने पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदलने के मामले में एक बार फिर निराश किया और टीम सात पेनल्टी कॉर्नर पर सिर्फ एक गोल कर सकी जो 28वें मिनट में वंदना कटारिया ने किया। भारत ने भी इंग्लैंड के खिलाफ कई मौके बनाए लेकिन अग्रिम पंक्ति के खिलाफ इनमे से अधिकांश को भुनाने में विफल रहे और एकमात्र गोल पेनल्टी कॉर्नर पर हुआ। शर्मिला देवी ने भी 56वें मिनट में गोल करने का स्वर्णिम मौका गंवाया जब वह शानदार पास को अपने कब्जे में नहीं कर पाईं। भारतीय टीम अब अग्रिम पंक्ति की खामियों को दूर करके दुनिया की 13वें नंबर की टीम चीन को हराने का प्रयास करेगी जिसने रविवार को पूल बी के एक अन्य मैच में न्यूजीलैंड को 2-2 से बराबरी पर रोका।

मुख्य कोच यानेक शॉपमैन को वंदना, लालरेमसियामी और शर्मिला जैसी खिलाड़ियों की मौजूदगी वाली अग्रिम पंक्ति से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी। फॉर्म और रैंकिंग को देखते हुए दुनिया की आठवें नंबर की टीम भारत चीन के खिलाफ प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगा लेकिन सविता की अगुआई वाली टीम को आत्ममुग्धता से बचना होगा। दोनों टीमों के बीच हुए पिछले दोनों मुकाबले भारत ने जीते हैं। ओमान के मस्कट में दो मैच के एएफआईएच प्रो लीग मुकाबले के पहले मैच में चीन को 7-1 से हराने के बाद भारत ने दूसरा मैच 2-1 से जीता। मंगलवार को पूल बी के एक अन्य मैच में इंग्लैंड का सामना चीन से होगा।

ये भी पढ़ें : Wimbledon Tennis tournament : विंबलडन के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे नोवाक जोकोविच, अब इटली के Jannik Sinner से भिड़ेंगे





Source link