बुलडोजर चलाकर हटाए गए अवैध कब्जे

अमृत विचार/बाराबंकी। स्थानीय नगर पंचायत सिद्धौर में मंगलवार को फिर बुलडोजर चलाकर अवैध रूप से काबिज लोगों के अवैध कब्जे हटाए गए। बता दें कि इससे पूर्व भी सिद्धौर नगर पंचायत में मार्ग के किनारे सरकारी भूमि पर काबिज लोगों के अवैध कब्जे हटाए गए थे। तथा चेतावनी दी गई थी कि जिन लोगों ने अवैध रूप से कब्जा सरकारी भू संपत्ति पर अपना कब्जा जमा रखा है वे लोग स्वत: अपना कब्जा हटा लें नहीं तो उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement

उसी क्रम में मंगलवार को अधिशासी अधिकारी पंकज श्रीवास्तव, नगर लेखपाल आनंद प्रकाश, उप निरीक्षक मनोज कुमार, व सिद्धौर पुलिस चौकी के पुलिसकर्मी आनंद कुमार यादव, अविनाश कुमार समेत पुलिस प्रशासन की मौजूदगी में सिद्धौर कैसरगंज मार्ग पर अवैध रूप से सरकारी भूमि पर काबिज लोगों का अवैध कब्जा हटाया गया।
इस दौरान अधिशासी अधिकारी पंकज श्रीवास्तव ने कहा कि अब रोड पर टैक्सी वाहनों का ठहराव नहीं होगा। उनका संचालन अब सिद्धौर कैसरगंज मार्ग पर बने सुलभ शौचालय के समीप से होगा ।जहां वे अपने वाहनों का ठहराव करेंगे।

सुबेहा में तीसरी बार चला बुलडोजर

बुधवार को सुबेहा कस्बे में तीसरी बार बुलडोजर लगाकर सड़कों पर से अतिक्रमण हटाया गया। नगर पंचायत के हसनपुर वार्ड व शनि बाजार को जाने वाले मार्ग के दोनों किनारों पर लोगों की दुकानों की बनी सीढ़ियों को तोड़ा गया। कस्बा निवासी रामरुप साहू की दुकान के पास बना शौचालय का टैंक भी तोड़ दिया गया। भाजपा की महिला मोर्चा की मंडल अध्यक्ष रिंकी चौरसिया की दुकानों पर भी अवैध अतिक्रमण के दौरान कार्रवाई की गई।

उनकी दुकानों को भी तोड़ कर खत्म कर दिया गया। कस्बा के ही सपा नेता के इशारे पर अतिक्रमण की आड़ में लोगों को परेशान किया जा रहा है। वही बुधवार सुबेहा नगर पंचायत में एक निजी प्रतिष्ठान का उद्घाटन करने आए भाजपा विधायक दिनेश कुमार रावत को भाजपा नेताओं ने एक पत्र भी दिया। जिसमें अवैध अतिक्रमण के नाम पर लोगों के साथ हो रही कार्रवाई पर विराम लगवाने की अपील की है।

पढ़ें-औरैया में अवैध कब्जे पर चला बुलडोजर, राजस्व विभाग की टीम ने चार करोड़ की जमीन कराई कब्जा मुक्त