बांग्लादेश में ईंधन के दामों में तेजी से बढ़ोतरी

0
23



ढाका: बांग्लादेश में ईंधन की खुदरा कीमत 1971 में देश की आजादी के बाद से उच्चतम स्तर पर पहुंच गयी है।
शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार सरकार ने शुक्रवार रात ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की। ईंधन की कीमतों में 51.7 प्रतिशत तक की वृद्धि की गयी है जो शनिवार से तत्काल प्रभावी हुई।
बिजली, ऊर्जा एवं खनिज संसाधन मंत्रालय की एक अधिसूचना के अनुसार यहां एक लीटर आॅक्टेन की कीमत अब 135 टका (यानी 1.43 डॉलर) है, जो इससे पहले 89 टका (0.94 डॉलर) प्रति लीटर था। जिसमें 51.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
वहीं, डीजल और केरोसिन के दाम में 42.5 फीसदी की बढ़ोतरी होने से इसके दाम 114 टका (1.20 डॉलर) प्रति लीटर हो गए हैं।
इसके अलावा पेट्रोल की कीमत अब 130 टका (1.37 डॉलर) प्रति लीटर हो गयी है। इससे पहले पेट्रोल प्रति लीटर 44 टका था। पेट्रोल की कीमतों में 51.1 प्रतिशत की वृद्धि हुयी है।
अधिकारियों ने बताया कि खुदरा स्तर पर ईंधन के दामों में बढ़ोतरी सरकारी वितरण कंपनियों पर सब्सिडी का बोझ कम करने के लिए किया गया है।
उन्होंने कहा कि इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय बाजार में ईंधन की कीमतें बांग्लादेश की तुलना में बहुत अधिक हैं।
विशेषज्ञों ने चेतावनी दी कि सरकार के इस कदम से महंगाई और अधिक बढ़ेगी। जून में मुद्रास्फीति की दर बढ़कर 7.56 प्रतिशत हो गई, जो कि लगभग नौ वर्षों में सबसे अधिक है।

Looks like you have blocked notifications!