फ्लाई ओवर निर्माण के लिए स्कूल के सामने खोद गया गड्ढा, गिरते…

Advertisement

अयोध्या। एक तरफ अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार ने एड़ी से चोटी तक की ताकत झोंक रखी है तो दूसरी तरफ भगवान स्वरूप बच्चों की अनदेखी में जिला प्रशासन ने कोई कसर बाकी नहीं रखी है। आलम यह है की फ्लाई ओवर निर्माण के लिए स्कूल के सामने खोद दिए गये मौत के गड्ढे के बीच से बच्चे गुजर रहे हैं।

Advertisement

गिरते-पड़ते, कीचड़ में लिपटते बच्चे स्कूल पहुंचते हैं। पल-पल मंडराता मौत का खतरा भी प्रशासन को नहीं दिख रहा है। ऐसा हाल तब है जब यहां आए दिन मुख्यमंत्री के अलावा अन्य मंत्री पधारे रहते हैं। इसके बावजूद इसकी फिक्र न तो किसी राजनेता को है और न ही जिला प्रशासन को है।

Advertisement

मामला अयोध्या कोतवाली क्षेत्र शहर के उदया पब्लिक व कनक किड्स स्कूल के सामने का है। जहां फ्लाईओवर निर्माण के चलते भारी अव्यवस्था फैली हुई है। 15 फिट चौड़े व 10 फिट गहरे बड़े गड्ढे यहां की बदइंतजामी की पोल खोलते हैं। बारिश के दौरान इतनी फिसलन बढ़ गई है कि जरा सा भी कोई चुके तो सीधा मौत के मुंह में समा जाएगा। इन्हीं संकरे रास्तों के बीच से ही गुजरकर उदया व कनक किड्स स्कूल के बच्चे आते जाते हैं।

यहां खतरे न कोई बोर्ड है और न ही फ्लाईओवर निर्माण करा रही कार्यदायी संस्था सेतु निगम की ओर से कोई रास्ता दिया गया है। बस है तो सिर्फ बदइंतजामी, लापरवाही और अनदेखी। इसे लेकर अभिभावकों में भी खासा आक्रोश है।दोनों स्कूल की तरफ से भी कई बार प्रशासन को इस संबंध में कहा गया, लेकिन जिला प्रशासन सुनने को तैयार ही नहीं है।

यह भी पढ़ें:-काशीपुर: फ्लाईओवर का निर्माण शीघ्र पूरा करे कार्यदायी संस्था : डीएम

Advertisement