HomeRegionalपैथोलॉजी लैब और ब्लड बैंक पर महिलाओं ने किया हंगामा, भ्रष्टाचार का...

पैथोलॉजी लैब और ब्लड बैंक पर महिलाओं ने किया हंगामा, भ्रष्टाचार का लगाया आरोप

Advertisement

धामपुर (बिजनौर),अमृत विचार। नगर स्थित पैथोलॉजी लैब व ब्लड बैंक के बाहर गांव भनेड़ा व नगीना से पहुंचीं दर्जनों महिलाओ ने हंगामा किया। उन्होंने ब्लड बैंक प्रबंधक पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन प्रभारी निरीक्षक को सौंपकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

Advertisement

मंगलवार को दर्जनों महिलाएं नगर स्थित नेशनल पैथोलॉजी लैब व सर्वोदय ब्लड बैंक के बाहर एकत्र हुईं। यहां उन्होंने आरोप लगाया कि यह लैब व ब्लड बैंक में भ्रष्टाचार किया जा रहा है। दान किए गए रक्त को प्रबंधक बाहर बेचकर मोटी रकम कमा रहा है। महिलाओं ने लैब में निर्धारित दर से अधिक रुपये वसूलने का आरोप भी लगाया है।उनका कहना है कि जरुरतमंदो को समय पर रक्त नहीं मिल पा रहा है और उनके साथ दुर्व्यवहार किया जाता है।

Advertisement

ग्राम भनेड़ा निवासी प्रियंका का आरोप है कि 29 जुलाई को उन्होंने ब्लड टेस्ट कराने के लिए सैंपल दिया था। इसके लिए उन्होंने 500 रुपये भी जमा किए थे। उनसे एक अगस्त को रिपोर्ट लेने को कहा गया था। जब वह रिपोर्ट लेने पहुंचीं तो उनसे फिर 1100 रुपये जमा करने को कहा गया। प्रियंका का आरोप है कि ब्लड टेस्ट की फीस मात्र 700 रुपये है फिर उनसे 1100 रुपये की मांग की गई। ऐसी ही शिकायतों को लेकर महिलाओं ने मंगलवार को पैथोलॉजी लैब के बाहर जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन करने वाली महिलाओं में करुणा, मिथिलेश, पूजा, सीमा, रीना, मंजू सैनी, रेखा रानी, बबीता, शेफाली आदि शामिल रहीं।

वहीं हंगामे की सूचना मिलने पर ब्लड बैंक संचालक डॉ. एनपी सिंह, डीएस चौहान, टीकम सिंह फौजी, पवन कुमार, मनोज चौहान आदि समर्थको के साथ पुलिस अधीक्षक पूर्वी ओमवीर सिंह के कार्यालय पर पहुंचे।

एनपी सिंह ने बताया कि धर्मांतरण व अन्य अनैतिक कार्यों में लिप्त रहने वाले एक व्यक्ति ने महिलाओं को भड़काया है। उनका कहना था कि मैं किसी का शोषण नहीं करता हूं। मेरी लैब पर निर्धारित फीस ही ली जाती है। उन्होंने बताया कि जो टेस्ट उन्होंने कराए थे, उनकी कीमत 1100 रुपये है। वह 500 रुपये जमा करके गई थीं और उसके बाद अगले दिन वह 200 देकर अपनी रिपोर्ट मांग रही थीं। मना करने पर उन्होंने महिलाओं को इकट्ठा कर हंगामा कर करना शुरू कर दिया। हमने एसपी पूर्वी के कार्यालय पहुंचकर उनके खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की है। इस संबंध में एसपी पूर्वी ओमवीर सिंह ने बताया कि लैब में टेस्ट की रेट लिस्ट लगी हुई है। रेट लिस्ट के हिसाब से ही पैसे मांगे जा रहे थे। हमें कोई भी तहरीर उपलब्ध नहीं हुई है। इसलिए कोई कार्रवाई नहीं की गई है ।

ये भी पढ़ें : बिजनौर: महिला थाने से चंद कदम की दूरी पर घर से 10 लाख की चोरी

Advertisement

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments