पुलिस के सामने नहीं चली ‘राकी भाई’ की होशियारी

0
31


बिलासपुर । पुलिसकर्मियों से मारपीट व गाड़ी में तोडफ़ोड़ करने वाले 3 युवक को रतनपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है. आरोपियों में फिल कोल वाशरी के मैनेजर विकास शर्मा और उसके साथी शामिल हैं. घटना रतनपुर के महामाया  मंदिर के मेलापरा में हुई थी.

रतनपुर पुलिस को सूचना मिली थी, कि कुछ लोग महामाया मंदिर मेला स्थल पर धारदार हथियारों से लैस हैं. इनमें से एक होटल में घुसकर मारपीट का आरोपी राकी सिंह उर्फ राकी भाई भी है, जो फील कोल वाशरी में बाउंसर है. वह कोयला कंपनी के वाहनों से कोयला चोरी को रोकने पेट्रोलिंग का काम करता है. इसी के चलते उसकी बीते दिनों एक होटल में मारपीट हुई थी, मामले को लेकर पुलिस उसकी तलाश कर रही थी.

सूचना पाकर पुलिस की टीम संदेहियों को पकडऩे गई. वहां पर हथियार बंद लोगों ने पुलिस के जवानों पर हमला कर दिया. साथ ही उनके वाहन को टक्कर मारकर भाग निकले. जिसके बाद थाने से बल बुलाकर भाग रहे लोगों की तलाश की गई.

आरोपी भागकर सेंदरी तक पहुंच गए थे, पुलिस के जवानों ने वहां पर घेराबंदी कर मौके से राकी सिंह, संदीप शर्मा और वीरभानू सिंह को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उनकी कार से तीन तलवार, पांच लोहे का राड और आठ लाठियां जब्त की है.  युवकों के खिलाफ जवानों पर हमला, शासकीय कार्य में बाधा और आम्र्स एक्ट की धारा 186, 353, 332, 147, 148 व 25-27 आम्र्स एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर कार्रवाई कर रही है.