पुलवामा में मिला सब-इंस्पेक्टर का गोलियों से छलनी शव, आतंकियों ने अपहरण कर कर दी हत्या


पुलवामा । जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के पंपोर इलाके में रहस्यमय परिस्थितियों में एक पुलिस सब इंस्पेक्टर का शव मिलने से हड़कंप मच गया है। साथ ही मृतक एसआई के शरीर पर कई गोलियों के निशान हैं। सब इंस्पेक्टर की पहचान फारूक अहमद मीर के रूप में की गई है, जो आईआरपी में तैनात थे। वह मिनिस्ट्रियल स्टाफ से थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

प्राथमिक जांच में पुलिस ने जानकारी दी है कि सब इंस्पेक्टर का पहले अपहरण किया गया और फिर खेत में ले जाकर गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। दरअसल आईआरपी 23 बीएन में तैनात संबूरा सी (एम) के फारूक अहमद मीर का शव उनके घर के पास धान के खेतों में मिला था।

प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि वह कल शाम को अपने धान के खेतों में काम करने के लिए घर से निकले थे, जहां उन्हें आतंकवादियोंने पिस्टल से गोली मार दी। बता दें कि इन दिनों कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सेना जबरदस्त कार्रवाई कर रही है।

लेकिन आतंकी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। हाल ही में आतंकियों ने तहसील कर्मचारी राहुल भट्ट, स्थानीय टिक-टॉक स्टार, महिला शिक्षक और बैंक कर्मचारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। हालांकि सेना ने सर्च अभियान चलाकर इन हत्याओं में शामिल आतंकियों को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया। इस पूरे साल में अभी तक सुरक्षाबलों ने 100 से ज्यादा आतंकियों को ढेर कर चुकी है।