पाकिस्तान के दिग्गज अंपायर रहे असद रऊफ बेच रहे जूते, मुंबई की मॉडल लगा चुकी है दुष्कर्म का आरोप


कराची । प्रसिद्ध की चरम शिखर पर पहुंचने के बाद उसे संभालने में असफल होने पर पतन का रास्ता भी होता है। पाकिस्तान के दिग्गज अंपायर रहे असद रऊफ की भी हैरान करने वाली तस्वीर सामने आई है। आईसीसी एलीट लिस्ट में शामिल रह चुके रऊफ, लाहौर के मशहूर लंडा बाजार में जूते बेच रहे हैँ। 2000 से 2013 के बीच 170 इंटरनेशनल मुकाबलों में अहम फैसले लेने वाले इस अंपायर का अब क्रिकेट से मोह भंग हो चुका है।

2016 से आजीवन प्रतिबंध झेल रहे असद रऊफ ने एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल से बातचीत में कहा कि ‘यह काम मैं अपने लिए नहीं बल्कि मेरे स्टाफ की सैलरी के लिए करता हूं। मैंने ताउम्र अंपायरिंग की। कई देश घूमे। जिंदगी में ऐसा कुछ भी नहीं बचा, जो मैंने नहीं किया। आईपीएल 2013 में सट्टेबाजों से संपर्क और बुकीज से तोहफे लेने के आरोपों में बीसीसीआई ने स्पॉट फिक्सिंग स्कैंडल का आरोपी भी बनाया था।

मुंबई की एक मॉडल ने साल 2012 में असद रऊफ पर रेप के आरोप लगाए थे। मॉडल का कहना था कि वह और असद रऊफ दोनों एक-दूसरे से प्यार करते थे। शादी का वादा करके रऊफ ने उनसे शारीरिक संबंध और बनाए, लेकिन बाद में मुकर गए। हालांकि, रऊफ ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था। इसी केस पर फिर सवाल पूछे जाने पर वह कहते हैं, ‘लड़की वाला मैटर जब आया था तो मैं उसके अगले साल भी आईपीएल में अंपायरिंग करने गया था।’

रऊफ का कहना है कि, ‘मैं जो भी काम करता हूं उसके टॉप तक पहुंचना मेरी आदत है। मैंने क्रिकेट खेला, मैं चरम पर पहुंच गया। और फिर जब मैंने अंपायर के रूप में शुरुआत की, तो वहां भी टॉप तक पहुंचा। अब नई पारी बतौर दुकानदार है। मुझे पूरी उम्मीद है कि यहां भी मैं शीर्ष तक जाऊंगा। मुझे कोई लालच नहीं है। मैंने बहुत सारा पैसा देखा है। मेरा दो बच्चे हैं। एक दिव्यांग हैं तो दूसरा हाल ही में अमेरिका से ग्रेजुएशेन की पढ़ाई पूरी करके लौटा है।’