परीक्षा से डरे नहीं, उसे आगे बढऩे का पायदान समझें – अदिति दीदी

0
22

रायपुर
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा चौबे कालोनी में आयोजित प्रेरणा समर कैम्प के दसवें दिन राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी अदिति दीदी ने भयमुक्त जीवन विषय पर बोलते हुए बच्चों को परीक्षा के भय से बचने का तरीका समझाया। राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी अदिति दीदी ने कहा कि विद्यार्थियों को सबसे अधिक भय परीक्षा का होता है। किसी विषय को जब हम पूरी तरह से नहीं जानते हैं तब हमारे अन्दर भय उत्पन्न होता है। परीक्षा का मतलब है स्वयं को परखना। परीक्षा एक ऐसा शब्द है जिससे हर कोई डरता है, किन्तु यह याद रहे कि परीक्षा ही वह पायदान है जिस पर पैर रखकर आगे बढ़ा जाता है।

उन्होंने कहा कि परीक्षा जीवन का अभिन्न अंग है। परीक्षा के बिना जीवन में आगे नहीं बढ़ सकते।  उन्होंने परीक्षा को सकारात्मक ढंग से लेते हुए कहा कि जब किसी का प्रमोशन होता है और उसे आगे बढऩे का मौका मिलता है तो उसे आन्तरिक खुशी होती है। इसी प्रकार परीक्षा को भी प्रमोशन या आगे बढऩे का माध्यम समझें। जब भी कोई परीक्षा आए तब उसे खुशी से पार कर आगे बढ़ जाएँ। उन्होंने कहा कि दुनिया में भय नाम की कोई चीज नहीं होती यह सिर्फ हमारे मन की कल्पना है। यह नकारात्मक सोच से उत्पन्न होता है। परीक्षा के पहले अच्छी तरह से तैयारी करने के लिए बच्चों को टिप्स देते हुए उन्होंने बतलाया कि परीक्षा से वही लोग डरते हैं जिनकी तैयारी पूरी नहीं होती है।

ऐसे करें परीक्षा की तैयारी
सबसे पहले अपनी दिनचर्या सेट कर लें। इसमें पढ़ाई के साथ-साथ थोड़ा समय खेलकूद के लिए भी रखें। पढ़ाई शुरू करने से पहले अपने मन को सकारात्मक विचारों से भर लें-जैसे कि सफलता मेरा जन्म सिद्घ अधिकार है। मैं जो चाहूँ वह कर सकता हूँ, भगवान मेरा साथी है आदि। पढ़ाई की शुरूआत दो मिनट राजयोगा मेडिटेशन के साथ करें क्योंकि राजयोग मन को एकाग्र करने की सुन्दर विधि है। जो विषय कठिन लगते हैं, उसमें किसी टीचर या अपने से बड़ों की मदद जरूर लें। सन्तुलित और सुपाच्य भोजन करें, पानी अधिक से अधिक पीएँ।

ब्रह्माकुमारी अदिति दीदी ने कहा कि बीच-बीच में स्वयं ही टीचर बनकर अपनी जाँच करें। पिछली गल्तियों का विश्लेषण कर उन्हें सुधारें। परीक्षा के एक दिन पहले सारी आवश्यक सामग्री एक जगह इक_े कर लें। रात को भरपूर नीेद लें और चूँकि आपने तैयारी पूरी की हुई है अत: बिना किसी भय के अगले दिन परीक्षा हॉल में जाएँ। क्योंकि भय होने से याद किया हुआ पाठ भी भूल जाता है।

रविवार, 15 मई को शाम 5.30 बजे विधानसभा रोड स्थित शान्ति सरोवर में समापन अवसर पर पुरस्कार वितरण एवं अभिभावक मिलन समारोह आयोजित किया गया है जिसमें अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रदीप गुप्ता और जिला शिक्षा अधिकारी ए.एन. बंजारा, उपस्थित रहेंगे। समारोह की अध्यक्षता क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी करेंगी।