धोनी ने हार के बाद भी टीम को सराहा

0
30





मुंबई । चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) टीम के कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ मुकाबले में हार के बाद भी अपनी टीम को सराहा है। धोनी ने अपने गेंदबाजों के प्रदर्शन की विशेष रुप से तारीफ की है। वहीं मुम्बई के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि शुरुआत में जल्दी विकेट गिरने से हमें थोड़ी घबराहट हुई थी पर इस बात का भरोसा था कि हम जीत जाएंगे। मुम्बई और सीएसके आईपीएल की सबसे सफल टीमें है पर इस बार खिताबी दौड़ से बाहर हो गयी हैं।

धोनी ने ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के लय में नहीं होने के बाद भी प्रशंसा की है। धोनी ने कहा कि वह टीम के मजबूत पक्ष हैं। साथ ही कहा कि कुछ खिलाड़ी ऐसे होते हैं, जो टीम का संयोजन तय करते हैं. जडेजा उनमें से एक हैं। जडेजा चोटिल होने के कारण टी20 लीग के इस सत्र से बाहर हो गये हैं। उन्होंने पहले 8 मैच में टीम की कप्तानी भी की थी पर टीम की लगातार हार बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। धोनी ने कहा कि विकेट जैसा भी हो 130 रन से कम के स्कोर का बचाव करना कठिन था। मैंने गेंदबाजों से विपक्षी टीम पर दबाव बनाने के लिए कहा इसपर सभी युवा गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी की, उन्हें अनुभव के साथ कुछ सीखने को मिल रहा है। युवा मुकेश चौधरी ने शुरुआत में 3 विकेट लिए थे। सिमरनजीत ने भी अच्छी गेंदबाजी की।

वहीं मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि जब शुरुआत में हमारे विकेट गिरे, तो हम थोड़े घबरा गए थे, लेकिन भरोसा था कि मैच हम जीतेंगे। शुरुआती विकेट गिरने के बाद युवा तिलक वर्मा ने नाबाद 34 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई।  रोहित ने कहा कि तिलक ने पहले ही साल में कमाल का प्रदर्शन किया है, उसका जज्बा शानदार है।







Previous articleलाइट नहीं होने से पूरा सिस्टम बंद था तो जनरेटर क्यों नहीं यूज किया, सीएसके की हार पर सहवाग ने सुनाई