Sunday, June 26, 2022
HomeNationalदोस्त की किडनी के इलाज के लिये होमगार्ड के बेटे ने रची...

दोस्त की किडनी के इलाज के लिये होमगार्ड के बेटे ने रची थी लूट की साजिश

बस्ती। बस्ती जिले की परसरामपुर थाने की पुलिस ने रविवार को लूट की घटना का खुलासा किया है। होमगार्ड के बेटे ने किडनी के इलाज के लिए लूटकांड की साजिश रची। दोस्त के इलाज के लिए उसके दो अन्य साथी भी इस लूट कांड में शामिल हुए थे। बता दें बस्ती जिले के परसरामपुर थाना के पशु चिकित्सालय के पास से तीन शातिर लुटेरों को पुलिस ने अरेस्ट किया।

Advertisement

पकड़े गए लुटेरों के पास से लूट के 14 हजार नगद, अवैध असलहा व लूट में प्रयुक्त बाइक बरामद हुई है। बीते 18 जून को जय प्रकाश वर्मा और उनकी पत्नी से बाइक सवार तीन बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम देकर फरार हो गए थे। भागते समय बदमाशों की बाइक खंभे से टकरा गई और डिग्गी में रखा बाइक का असली नंबर पलेट गिर गया जो पुलिस के हाथ लग गया।

गाड़ी के नंबर पलेट यूपी 43 एन 5637 को जब पुलिस ने ट्रेस करना शुरू किया तो इसके पहले मालिक का पता चला और जांच में पुलिस को आखिर में राजेश सिंह का नाम सामने आया जिन्होंने बाइक खरीदी थी। पुलिस ने जब उनसे पूंछताछ की तो पता चला कि बाइक खरीदने वाला होमगार्ड है। बाइक को उनका लड़का सौरभ सिंह लेकर चलता है। इसके बाद पुलिस ने सौरभ सिंह और उसके साथी हरिनारायण सिंह और प्रिंस सिंह को अरेस्ट किया।

पुलिस ने इनसे पूछताछ की तो अभियुक्त सौरभ सिंह ने बताया कि उसकी किडनी खराब है जिसके इलाज के लिए उसे पैसों की जरूरत पड़ती है। इसलिए उन्होंने लूट की घटना को अंजाम दिया। साथ में उस के दो अन्य साथी भी अपने साथी की किडनी के इलाज के लिए लूट में शामिल हुए थे।

एएसपी दीपेंद्र चौधरी ने बताया कि गाड़ी के नंबर प्लेट को ट्रेस कर लुटेरों को अरेस्ट किया गया है। पूछताछ में इन्होंने बताया कि किडनी की बीमारी में ज्यादा पैसे खर्च हो रहे हैं, जिसकी वजह से लूट की घटना को अंजाम दिया। पकड़े गए लुटेरों पर धारा 392, 411, 120बी और आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

यह भी पढ़े:-गोरखपुर: पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन में 4 शातिर बदमाश गिरफ्तार

RELATED ARTICLES
- Advertisment -