HomeNationalदेश को आज मिलेगा नया उपराष्ट्रपति, जगदीप धनखड़ और मार्गरेट अल्‍वा के...

देश को आज मिलेगा नया उपराष्ट्रपति, जगदीप धनखड़ और मार्गरेट अल्‍वा के बीच मुकाबला

Advertisement

नई दिल्ली। भारत के नए उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए शनिवार को मतदान हो रहा है। इसमें मुकाबला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ और विपक्ष की संयुक्त उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा के बीच है। संसद भवन में मतदान सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक होगा। इसके तुरंत बाद मतों की गिनती की जाएगी और देर शाम तक निर्वाचन अधिकारी द्वारा देश के नए उप राष्ट्रपति के नाम की घोषणा कर दी जाएगी।

Advertisement

उपराष्ट्रपति के रूप में एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है और नए उपराष्ट्रपति 11 अगस्त को शपथ लेंगे। सदन में दोनों सदनों को मिलाकर कुल 788 सदस्य हैं। आंकड़ों के हिसाब से NDA कैंडिडेट और पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल जगदीप धनखड़ की स्थिति मजबूत दिख रही है। मार्गरेट अल्वा उनको टक्कर दे रहीं हैं।

Advertisement

उपराष्ट्रपति के रूप में एम वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है और नए उपराष्ट्रपति 11 अगस्त को शपथ लेंगे। धनखड़ यदि उपराष्ट्रपति निर्वाचित होते हैं, तो यह एक इत्तेफाक ही होगा कि लोकसभा के अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति एक ही राज्य के होंगे। वर्तमान में ओम बिरला लोकसभा अध्यक्ष हैं और वह राजस्थान के कोटा संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं।

80 वर्षीय अल्वा कांग्रेस की वरिष्ठ नेता हैं और वह राजस्थान के राज्यपाल के रूप में भी काम कर चुकी हैं। धनखड़ 71 वर्ष के हैं और वह राजस्थान के प्रभावशाली जाट समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। उनकी पृष्ठभूमि समाजवादी रही है।

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने इस चुनाव में भी एनडीए प्रत्‍याशी को अपना समर्थन देने की घोषणा की है। बसपा मुखिया ने ट्वीट कर जगदीप धनखड़ को समर्थन देने की औपचारिक घोषणा की है। मायावती ने इससे पहले राष्‍ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू को भी अपना समर्थन दिया था।

झारखंड में सत्ताधारी गठबंधन के अगुवा दल झारखंड मुक्ति मोर्चा ने उपराष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को समर्थन देने का फैसला किया है। झामुमो के अध्यक्ष शिबू सोरेन ने एक पत्र जारी करके सांसदों को निर्देश दिया गया है कि वो मार्गरेट अल्वा को वोट करें।

ममता ने बनाई दूरी
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस ने अल्वा के नाम की घोषणा से पहले सहमति नहीं बनाने की कोशिशों का हवाला देते हुए मतदान प्रक्रिया से दूर रहने की घोषणा की है।

आंकड़े धनखड़ के पक्ष में
आंकड़ों के लिहाज से देखा जाए तो पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल धनखड़ की जीत सुनिश्चित लग रही है। विपक्षी दलों में उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर मतभेद भी सामने आए हैं।

780 का निर्वाचन मंडल, 744 सांसद हिस्सा लेंगे
अभी लोकसभा में 543 सांसद हैं, जबकि राज्यसभा में 245 में से 8 सीटें खाली हैं। यानी निर्वाचन मंडल 780 सांसदों का है। ममता की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने चुनाव से दूर रहने की बात कही है। TMC के 36 सांसद हैं। इस तरह 744 सांसद वोटिंग में हिस्सा लेंगे। अगर यह सभी सांसद वोटिंग में हिस्सा लेते हैं तो बहुमत का आंकड़ा 372 रहेगा।

BJP के सांसदों से ही जीतते दिख रहे धनखड़
BJP के अपने 394 सांसद हैं, यह संख्या बहुमत के आंकड़े से ज्यादा है। इस तरह से देखा जाए तो BJP अकेले ही जगदीप धनखड़ को जितवा सकती है। उधर, बात NDA की करें तो 441 सांसद हैं, 5 मनोनीत का भी साथ मिला हुआ है। इस तरह से धनखड़ के पक्ष में 446 वोट हो जाते हैं। इन सभी वोटों से NDA जीत के अंतर बढ़ाना चाहेगी।

NDA के अलावा भी धनखड़ को समर्थन
NDA के सांसदों से जगदीप धनखड़ को तो बढ़त मिलती दिख ही रही है। इसके अलावा, BJD, YSRC, BSP, TDP, अकाली दल और शिंदे गुट का भी समर्थन हासिल है। इनके 81 सांसद हैं।

नायडू को पीछे छोड़ सकते हैं धनखड़
आंकड़ों के हिसाब से जगदीप धनखड़ को बहुमत के आंकड़े 372 से काफी ज्यादा वोट मिलते दिख रहे हैं। यह आंकड़ा करीब 70 प्रतिशत के करीब रह सकता है। पिछले उपराष्ट्रपति चुनाव में एम वेंकैया नायडू को करीब 68 प्रतिशत वोट मिले थे। इस हिसाब से माना जा रहा है कि धनखड़ इस चुनाव में वेंकैया नायडू को पीछे छोड़ सकते हैं।

मार्गरेट अल्वा के पास इनका समर्थन
UPA की उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा के पास कांग्रेस, DMK, RJD, NCP और समाजवादी पार्टी के वोट हैं। इन पार्टियों के वोटों की संख्या 139 हैं। इनके अल्वा झारखंड मुक्ति मोर्चा, TRS और आम आदमी पार्टी ने भी अल्वा को वोट देने का फैसला किया है। इन तीनों के 29 सांसद हैं। शिवसेना के उद्धव गुट के 9 सांसद अल्वा के साथ हैं।

ये भी पढ़ें : Video: अरविंद केजरीवाल की खास अपील, कहा- 14 अगस्त को जरूर करें ये काम

Advertisement

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments