थूकने और पत्थर फेंकने पर भड़के कांवड़िए, लगाया जाम

Advertisement

संभल,अमृत विचार। मार्ग से गुजर रहे कांवड़ियों के ऊपर सोमवार शाम पत्थर फेंकने और थूकने की शर्मनाक हरकत सामने आई है। ऐसा कर असामाजिक तत्वों ने शहर का माहौल बिगाड़ने की कोशिश की। घटना के बाद कांवड़िए भड़क गए। उन्होंने संभल-बहजोई मार्ग पर जाम लगा दिया। सूचना के तुरंत बाद एएसपी मौके पर पहुंचे। उनके समझाने पर भी कांवड़िये नहीं माने और सड़क पर बैठने लगे। कुछ देर बाद भाजपा नेता भी घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई कराने का आश्वासन देकर कांवड़ियों को समझा-बुझा कर मामले को शांत कराया। उसके बाद नाराज शिवभक्त पुलिस की सुरक्षा में अपने गन्तव्य की ओर बढ़ गए।

Advertisement

Advertisement

हरिद्वार से कांवड़ लेकर आ रहे भोले के भक्तों का जत्था सोमवार की शाम शहर के मोहल्ला आर्य समाज और बल्ले की पुलिया के बीच पहुंचा। इस दौरान मोहल्ला में कुछ असामाजिक तत्वों ने छतों पर चढ़कर नीचे से गुजर रहे कांवड़ियों पर थूक दिया, जिसका वहां पर एक कांवड़िये ने विरोध किया। उसके बाद कुछ लोगों ने शहर की फिजा बिगाड़ने की कोशिश करते हुए कांवड़ियों पर ईंट व पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी बड़ी नम्रता और संजीदगी से भड़के कांवड़ियों को समझाकर आगे ले गए। घटना के बाद कुछ देर के लिए मोहल्ले में अफरा तफरी मच गई। पुलिस ने इस घटना के बारे में एएसपी संभल आलोक कुमार को जानकारी दी।

थूकने और पत्थर फेंकने पर भड़के कांवड़िए 1

उसके बाद पीछे से कुछ कांवड़िए और आ गए। वह भी घटना की जानकारी मिलने पर भड़क गए। भड़के कांवड़ियों ने संभल बहजोई मार्ग पर जाम लगा दिया। पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे एएसपी ने कांवड़ियों को काफी समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर सड़क पर बैठ गए। वह हर-हर महादेव का जयघोष करने लगे। मौके पर भीड़ जुटनी शुरू हो गई। सूचना मिलते ही भाजपा के पश्चिमी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंघल मौके पर पहुंचे और कांवड़ियों को समझाया। भाजपा नेता की ओर से कार्रवाई का आश्वासन मिलने पर कांवड़ियों का जत्था आगे बढ़ गया। एएसपी आलोक कुमार जायसवाल ने बताया कि कांवड़ियों की तरफ से तहरीर दी गई है। मुकदमा दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें : बिजनौर : मजारों में तोड़फोड़ के आरोपियों से जांच एजेंसियों ने की मैराथन पूछताछ, भगवा कपड़े पहनकर दिया था घटना को अंजाम

Advertisement